Loading...

PM मोदी ने देश को दिया ये बड़ा तोहफा, युवाओं को प्रशिक्षित कर रोजगार देने का है मकसद

0 15

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को एक बड़ी खुशख़बरी दी है। जी हां, दरअसल पीएम ने कोच्चि पेट्रोलियम परिशोधन संयंत्र में भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड के एक एकीकृत तेल परिशोधन विस्तार परिसर का उद्धघाटन किया और देश को संबोधित भी किया.

जानकारी के लिए बता दें कि उन्होंने इस पेट्रोलियम परिशोधन संयंत्र में एक पेट्रोरसायन परिसर तथा एत्तुमनूर में कौशल विकास संस्थान की आधारशिला भी रखी. इतना ही नहीं उन्होंने इसके अलावा यहां इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड के एलपीजी बोटलिंग संयंत्र में ऊंचाई पर स्थापित एलपीजी भंडारण केंद्र का उद्घाटन भी किया.

बता दें कि इस माउंटेड भंडार की कुल क्षमता 4,350 टन है. दरअसल इसे भंडारण का सबसे सुरक्षित तरीका माना जाता है. मोदी ने इस मौके पर कहा कि भारत बड़े तेल परिशोधन केंद्र के तौर पर उभर रहा है और आज देश अपनी जरूरत से अधिक पेट्रोलियम परिशोधन कर रहा है जोकि बहुत अच्छी बात है.

मोदी ने ये भी कहा कि मई 2016 में उज्ज्वला योजना की शुरुआत के बाद गरीब लोगों को करीब छह करोड़ एलपीजी कनेक्शन दिये गये हैं. मोदी ने कहा कि 23 करोड़ से अधिक लोगों ने ‘पहल’ यानि कि प्रत्यक्ष हस्तांतरित लाभ योजना से खुद को जोड़ा. मालूम हो कि इस योजना के तहत सब्सिडी सीधे ग्राहक के खाते में भेजी जाती है.

Loading...

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस पहल को सबसे बड़ा प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण योजना के नाते गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में जगह मिली है. एकीकृत परिशोधन परिसर एक आधुनिक विस्तार परिसर है. मालूम हो कि यह एलपीजी तथा डीजल उत्पादन को दोगुना कर देगा और संयंत्र में पेट्रोरसायन उत्पादों के लिये कच्चे पदार्थों का उत्पादन भी शुरू कर देगा.

बता दें कि इस संस्थान में तेल एवं गैस तथा अन्य उद्योगों के लिये योग्य युवाओं को प्रशिक्षित किया जाएगा और उनके रोजगार की योग्यता को विस्तृत किया जाएगा.

मालूम हो कि यह संस्थान 8 एकड़ के परिसर में बनकर तैयार हो रहा है. इसकी क्षमता 20 विभिन्न क्षेत्रों में सालाना एक हजार युवाओं को प्रशिक्षित करने की होगी.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.