Loading...

1.5 लाख रु सैलरी वाले डिप्टी कमिश्नर के पास निकली 300 करोड़ की संपत्ति, पत्नी के नाम पर 106 प्लॉट

0 15

राजस्थान के कोटा में नारकोटिक्स के डिप्टी कमिश्नर डॉ.सहीराम और दलाल कमलेश की गिरफ्तारी के बाद जयपुर की संपत्तियों के बारे में अब ACB को पता चल गया है। इसके बाद आरोपी के शंकर विहार स्थित आवास की तलाशी ली गई।

तलाशी में तीन अटैचियों में काफी मात्रा में कपड़े व पॉलिथिन की थैलियों में नोट भरे हुए मिले। नोट गिनने की मशीन मंगवाई गई और तीनों अटैचियों में दो करोड 26 लाख 98 हजार 8 सौ रुपए मिले।

वहीं 6 लाख 26 हजार रूपए के आभूषण भी मिले। इसके अलावा सहीराम व परिजनों के नाम से विभिन्न बैंकों में 15 खातों की जानकारी भी सामने आई और साथ ही कुछ लॉकर की भी जानकारी मिली है।

इन बैंक खातों व लॉकर को एसीबी सोमवार को सीज करवाएगी। इसके बाद बैंकों व लॉकरों की तलाशी ली जाएगी। एसीबी को शक है कि बैंक खातों में लाखों रुपए जमा है।

Loading...

कमिश्नर ने मांगी इस संबंध में रिपोर्ट, अब होगी विभागीय कार्रवाई

बता दें कि नारकोटिक्स डिपार्टमेंट की पूरे देश में सिर्फ तीन राज्यों में यूनिट है। वो राज्य राजस्थान, मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश हैं। आरोपी सहीराम की एसीबी की टीम ने तलाशी ली तो सर्च करने वाली टीम भी नोटों की गड्डियां देखकर हैरान रह गई। अब ये रिपोर्ट कमिश्नर को जाएगी और फिर विभागीय कार्यवाही भी की जाएगी।

सहीराम बोला- रिश्वत नहीं ली

बता दें कि सहीराम मीणा को रिश्वत देने वाले कमलेश के फोन को दो महीने से सर्विलांस पर रखा गया था। दलाल को सहीराम ने पहले 25 जनवरी की शाम को रिश्वत लेकर अपने सरकारी बंगले पर बुलाया। इसके बाद अगले दिन सुबह दस बजे बुलाया। 12 बजे सहीराम मीणा के घर जाकर दलाल कमलेश ने जैसे ही रुपए दिए तो पहले से बैठी एसीबी ने रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। पकड़े जाने के बाद सहीराम ने एसीबी से कहा कि उसने रिश्वत नहीं ली।

सहीराम लड़ना चाहता है लोकसभा का चुनाव

सूत्रों की माने तो सहीराम मीणा लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहा था। मीणा ने कांग्रेस और भाजपा दोनों पार्टियों से दावेदारी की कोशिश की थी। विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हुए एक दिग्गज नेता से भी सहीराम मीणा के मजबूत करीबी संबंध बताए जा रहे हैं।

बता दें कि मीणा का परिवार बड़े प्रशासनिक और राजनैतिक व्यवहार रखता है। सहीराम की एक बेटी उत्तराखंड के एक जिले में कलेक्टर है। वहीं मीणा का साला रामविलास लालसोट से भाजपा उम्मीदवार के तौर पर विधानसभा चुनाव लड़ा चुका है।

इतने सम्पत्ति कि आपका सर चकरा जाए

सहीराम के पास इतनी सम्पत्तियां हैं कि आप हैरान रह जाएंगे। आइए जानते हैं।

सहीराम के बेटे मनीष के नाम 23 भूखंड

सहीराम की पत्नी प्रेमलता के नाम 42 भूखंड

सहीराम के रिश्तेदारों के नाम से 12 भूखंड

प्रेमलता के नाम 42 दुकानों के आवंटन पत्र

वाटिका रोड पर प्रेम पैराडाइज के नाम से स्थित मैरिज गार्डन के दस्तावेज।

सवाई गैटोर आदिनाथ नगर स्थित प्लाट नंबर 52 व 53 के कागजात, ये कागजात आरोपी सहीराम की पत्नी व पुत्रवधू के नाम से हैं।

गोपालपुरा गृह निर्माण सहकारी समिति लि. से आरेापी की पत्नी प्रेमलता के नाम 4 भूखंड

सहीराम की पत्नी के नाम भोज्यावाड़ा में 5 बीघा कृषि भूमि।

नई दिल्ली बसंत कुंज स्थित सेक्टर छह व सात में फ्लैट।

जयपुर गणपति प्लाजा में दुकान।

पत्नी प्रेमलता व पुत्रवधू विजयलक्ष्मी के नाम से सीतापुरा इंडस्ट्रीज में दो भूखंड।

बेटे मनीष के नाम से मुंबई में एक फ्लैट

प्रताप नगर कुमुद नगर में एक दुकान।

स्वामी विवेकानंद एजुकेशन सोसायटी का रजिस्ट्रेशन

एक एसेंट, इनोवा, मोटरसाइकिल, होंडा इमेज व लांसर कार

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.