Loading...

अपनी 6 माह की बेटी को घर की बालकनी में दुलार रही थी मां, तभी आया हवा का एक झोंका और हाथ से छूटकर

0 486

सूरत के गणपत नगर से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। इस हादसे के बाद से इलाके के लोग सन्न रह गए हैं। ये हादसा दरअसल एक एक्सीडेंट है जिसकी वजह से एक हंसते खेलते परिवार की खुशियां छिन गईं।

दरअसल हुआ यूं कि 6 माह की बच्ची को घर की बालकनी में उसकी मां दुलार रही थी। तभी अचानक से उसके हाथ से बच्ची छूट गई और तीसरी मंजिल से सीधा नीचे गिर पड़ी।

आनन फानन में बच्ची को सिविल अस्पताल ले जाया गया लेकिन वह बच नहीं पाई। इस घटना से मां गुड़िया आत्मग्लानि में डूब गई है। रो-रोकर उसका बुरा हाल है। उसने सिसकते हुए बताया कि बालकनी में तेज हवा चल रही थी। हवा का एक तेज झोंका मेरी बच्ची को उड़ाकर ले गया।

निकलने वाली ही थी कि तब तक बच्ची गिर गई

Loading...

बच्ची की मां गुड़िया ने बताया कि मैं रोज गैलरी में उसे लेकर टहलती थी। हवा बहुत तेज चल रही थी। मैं वहां से निकलने ही वाली थी तभी अचानक तेज हवा का झोंका आया और मेरी बच्ची हाथ से छूट गई।

2 साल की मन्नत के बाद हुआ था बच्ची का जन्म

गणपत नगर निवासी सनोज गुप्ता की गुड़िया से तीन साल पहले शादी हुई थी। 2 साल तक कई मंदिरों में माथा टेका, काफी मन्नतों के बाद 6 माह पहले ही गुड़िया ने एक प्यारी सी बेटी को जन्म दिया था। दोनों ने उसका नाम वर्षा रखा था। दोनों बेहद खुश थे। उनके घर खुशियों से भर गया था।

मां गुड़िया रोज अपनी बच्ची को लेकर बालकनी में टहलती थी। मंगलवार शाम को भी रोज की तरह वह टहल ही रही थी लेकिन तब यह हादसा हो गया।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.