Loading...

2000 रुपए किलो के हिसाब से बिक जाते हैं आपके कटे-झड़े बाल, शुरू करें अपना खुद का बिजनेस

0 29

आप अक्सर अपने टूटे एवं झड़े हुए बालों को कूड़ा समझ कर कूड़े के ढेर में फेंक देते होंगे लेकिन अगर हम आपको उन बेकार हुए बालों की कीमत बता दें तो उनकी कीमत जान कर आप हैरान रह जाएंगे।

जी हां, दरअसल इन्हीं बालों काे बाजार में 1200 से 2000 रुपए किलो के दाम में बेचा जाता है। इनका इस्तेमाल विग और हेयर ऐसेसरीज बनाने में किया जाता है। एक आंकड़े के अनुसार दुनियाभर में इसका सालाना कारोबार 5800 करोड़ रुपए का है।

बता दें कि भारत और पाकिस्तान दोनों दुनिया में बालों के प्रमुख निर्यातक हैं। पाकिस्तान ने तो पिछले पांच साल में बालों को बेचकर 11.43 करोड़ रुपए कमाए हैं।

ग्लोबल कारोबार है 5800 करोड़ का

Loading...

दरअसल इन टूटे, झड़े एवं कटे बालों के सबसे बड़े खरीदार यूएस और जापान हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि यहां की एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में इन बालों का इस्तेमाल होता है। इसी कारण से चीन में भी बालों की मांग तेजी से बढ़ रही है। एक आंकड़े के अनुसार वर्ष 2017 के दौरान दुनिया भर में मानव बाल के निर्यात का कारोबार करीब 5800 करोड़ रुपये का रहा था।

झड़े बालों की डिमांड कटे बालों से है अधिक

वैसे आपको हैरानी इस बात से होगी कि झड़े बालों की डिमांड कटे बालों से ज़्यादा है। दरअसल उसके पीछे कारण ये है कि झड़े हुए बालों की लंबाई ज्यादा होती है कटे हुए बालों की तुलना में, इसीलिए इनकी मांग और कीमत ज्यादा रहती है।

एक और कारण झड़े हुए बालों का ज़्यादा डिमांड में रहना ये भी है कि कंघी से झड़े बालों को ट्रांसप्लांट करना और इससे विग बनाना आसान होता है। मालूम हो कि इन टूटे और झड़े बालों को साफ करके एक तरह के कैमिकल में रखा जाता है। इसके पश्चात इसे सीधा कर अलग-अलग डिजाइन के विग बनाने के लिए काम में लाया जाता है।

भारत में 3000 करोड़ का है बालों का कारोबार

हमारे देश में भी बालों का अच्छा खासा कारोबार है और ये कारोबार तेजी से बढ़ रहा है। बता दें कि भारत में बालों की मांग सबसे ज्यादा कोलकाता और चेन्नई में है, जहां इनका ट्रीटमेंट कर इन्हें चीन भेजा जाता है।

बाल दान करने के लिए मशहूर तिरुपति बालाजी के मंदिर की बात करें तो वर्ष 2014 में यहां बालों की बिक्री से 229 करोड़ रुपए की आय हुई थी। व्यपारियों के मुताबिक इन बालाें का कारोबार तकरीबन तीन करोड़ रुपए का हो चुका है।

मालूम हो कि सबसे अच्छे और चमकदार बाल गुजरात के माने जाते हैं। दिल्ली-एनसीआर में बालों से अच्छा खासा बिज़नस होता है। यहां बाल 500 से 1000 रुपए किलो में बेचे जाते हैं।

बता दें कि इन बालों की डिमांड होली के दौरान काफी बढ़ जाती है क्योंकि होली पर लाेग रंगीन विग पहनना पसंद करते हैं। ऐसे में बालों की कीमत इस समय यानि होली के त्यौहार के दौरान 2 हज़ार रुपए प्रति किलो तक पहुंच जाती है।

आप भी कमा सकते हैं इससे

मालूम हो कि ज्यादातर इलाकों में फेरीवाले घर-घर जाकर लोगों से झड़े हुए बाल खरीदते हैं। दरअसल इसे वे स्थानीय व्यापरियों को बेच देते हैं। फिर ये व्यापारी इन बालों को कोलकाता, चेन्नई और आंध्र प्रदेश में बेचते हैं। इन शहरों से बाल विदेश में बेचे जाते हैं। अकेले कोलकाता से 90 % बालों को चीन भेजा जाता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.