Loading...

अब पासपोर्ट नहीं बल्कि आधार कार्ड के जरिए कर सकते हैं इन देशों में यात्रा, लेकिन ये हैं शर्तें

0 291

अगर आपके पास पासपोर्ट नहीं है और आपको विदेश घूमना है तो आपकी इच्छा अब पूरी हो सकती है. जी हां, विदेश यानी नेपाल, भूटान जैसे देशों में जाने के लिए अब आपको पासपोर्ट की जरूरत नहीं होगी. दरअसल अब भारतीय अपने पहचान पत्र के आधार पर ही इन देशों में जा सकते हैं.

यहां बता दें कि ये नियम सिर्फ सिर्फ नेपाल और भूटान जाने के लिए ही है. इसके अलावा ये भी शर्त है कि भारत के 15 वर्ष से कम और 65 वर्ष से अधिक के नागरिक नेपाल और भूटान की यात्रा के लिए आधार कार्ड का वैध यात्रा दस्तावेज के रूप में इस्तेमाल कर सकेंगे.

यही दो वर्ग के भारतीय कर पाएंगे ऐसा

मालूम हो कि दोनों पड़ोसी देशों की यात्रा के लिए इन दोनों वर्गों के अलावा अन्य भारतीय आधार कार्ड का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे.

Loading...

बता दें कि इस संबंध में ग्रह मंत्रालय द्वारा दी गई विज्ञप्ति में कहा गया है कि नेपाल और भूटान जाने वाले भारतीय नागरिकों के पास यदि वैध पासपोर्ट, भारत सरकार द्वारा जारी एक फोटो पहचान पत्र या चुनाव आयोग द्वारा जारी पहचान पत्र हैं तो उन्हें वीजा की जरूरत नहीं है.

यहां आपको ये भी याद दिला दें कि इससे पहले 65 से अधिक और 15 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति इन दो देशों की यात्रा के लिए अपनी पहचान प्रूव करने के लिए अपना पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, या राशन कार्ड दिखा सकते थे लेकिन आधार का इस्तेमाल नहीं कर सकते थे, हालांकि अब ये नियम बदल गया है.

काठमांडू का प्रमाण पत्र वैध नहीं माना जाएगा

ग्रह मंत्रालय के एक अधिकारी के अनुसार भारतीय नागरिकों के लिए भारतीय दूतावास, जजोकि काठमांडू में है उसके द्वारा जारी पंजीकरण प्रमाण पत्र भारत और नेपाल के बीच यात्रा के लिए स्वीकार्य यात्रा दस्तावेज नहीं माना जाएगा.

15 से 18 की उम्र वाले क्या करें

मंत्रालय के अधिकारी के मुताबिक 15 से 18 साल के किशोरों को उनके स्कूल के प्रधानाचार्य द्वारा जारी पहचान प्रमाण पत्र के आधार पर भारत और नेपाल के बीच यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी.

भूटान-नेपाल में रहते हैं काफी भारतीय

भारतीय राज्यों जैसे सिक्किम, असम, अरुणाचल प्रदेश और पश्चिम बंगाल के साथ सीमा साझा करने वाले भूटान में लगभग 60 हज़ार भारतीय नागरिक रहते हैं।

वहीं विदेश मंत्रालय के एक आकड़े के अनुसार लगभग छह लाख भारतीय नेपाल में रहते है.

यहां बता दें कि नेपाल पांच भारतीय राज्यों- सिक्किम, पश्चिम बंगाल, बिहार, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के साथ 1,850 किलोमीटर से अधिक सीमा शेयर करता है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.