Loading...

7th Pay Commission: बढेगा इन कर्मचारियों का वेतन, इस भत्ते मैं होगा दोगुना इजाफा

0 34

भारतीय रेलवे के कर्मचारियों के लिए खुशखबरी आई है. जी हां, दरअसल भारतीय रेलवे ने कर्मचारी संगठनों की बेहद पुरानी मांग को स्वीकार करते हुए गार्ड, लोको पायलट और सहायक लोको पायलट को मिल रहे रनिंग भत्ते को दो गुने से अधिक करने का निर्णय लिया है.

इसकी पुष्टि रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने स्वयं की. उनके अनुसार इससे सालाना भत्ते पर 1,225 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ आएगा तथा परिचालन अनुपात 2.50 % बढ़ जाएगा.

भत्ता बढ़ा दो गुना

बता दें कि दरअसल रेल परिचालन में मदद करने वाले लोको पायलट, सहायक लोको पायलट तथा गार्ड को रेलवे का ‘रनिंग स्टॉफ’ कहा जाता है.

Loading...

अभी तक इन्हें प्रति सौ किलोमीटर चलने पर करीब 255 रुपये की दर से ‘रनिंग भत्ता’ दिया जाता रहा है. लेकिन खबर के अनुसार अब इसे बढ़ाकर करीब 520 रुपये कर दिया गया है.

आर्थिक बोझ बढ़ने के आसार

बता दें कि प्रभावी सूत्रों के मुताबिक इस वृद्धि से भत्तों का खर्च 2,375 करोड़ रुपए पहुंच जाएगा जो अभी तक 1,150 करोड़ रुपये से करोड़ रुपये था.

रेलवे के एक अधिकारी के मुताबिक, ‘‘रनिंग कर्मचारी पिछले चार साल से भत्ता बढ़ाने की मांग कर रहे थे. अब इसे स्वीकार कर लिया गया है. यह रेलवे द्वारा अपने कर्मचारियों को दिया गया नववर्ष का तोहफा है. हालांकि, इससे परिचालन लागत करीब 2.50 % बढ़ जाएगी.’’

100 रुपये कमाने में व्यय होता है 117 रुपये का

मालूम हो कि नवंबर 2018 में भारतीय रेल का परिचालन अनुपात सर्वाधिक 117.05 % पर पहुंच गया था. इसका मतलब ये हुआ कि भारतीय रेल को प्रति सौ रुपये कमाने के लिये 117.05 रुपये खर्च करने पड़े.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.