Loading...

पाकिस्तान में स्थित इन 7 ऐतिहासिक मंदिरों में मुस्लिम भी झुकाते हैं अपना सिर

0 14

इस बात की जानकारी तो शायद आप सभी लोगों को है ही कि हमारे देश में बने हुए सभी हिंदू मंदिरों का डंका ना सिर्फ हमारे देश भारत में बल्कि दुनिया के दूर-दूर के देशों में भी बजता है। पर क्या आप उन हिंदू मंदिरों के बारे में जानते हैं जोकि हमारे देश में नहीं बल्कि हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान में स्थित हैं। आपकी जानकारी के लिए आपको ये भी बता दें कि हिंदू आस्थाओं का प्रतीक माने जाने वाले ये हिंदू मंदिर पाकिस्तान में भी हैं और यह बात भी आपको पता ही होगी कि पाकिस्तान एक मुस्लिम देश है। वहां पर बने हुए इन हिंदू मंदिरों के पीछे छुपी चौंकाने वाली बात को शायद ही कम लोग जानते होंगे। जब आपको इस बात की जानकारी होगी तो आप भी हैरान के हैरान रह जाएंगे।

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान में ऐसे 7 हिंदू मंदिर मौजूद हैं। जिन मंदिरों में ना केवल हिंदू ही पूजा पाठ करने के लिए आते हैं। बल्कि यहां पर मुस्लिम भी आते हैं। चलिए अब आपको बताते हैं। पाकिस्तान में मौजूद इन सात हिंदुओं के बारे में।

हिंगलाज मंदिर, बलूचिस्तान

Loading...

इस मंदिर के बारे में एक पौराणिक कथा भी है जिसके बारे में शायद आपको नहीं पता होगा। दरअसल इस मंदिर को लेकर कहा जाता है कि विष्णु भगवान ने सती माता का शीश काटने के लिए चक्र फेंका था। उस चक्र से ही शीश काटकर जिस जगह पर आकर गिरा था। वह जगह कोई और नहीं बल्कि यही जगह है। दरअसल ये मंदिर पाकिस्तान के बलूचिस्तान से 120 किलोमीटर की दूरी पर हिंगुल नदी के तट पर बना हुआ है और आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ये मंदिर 51 शक्तिपीठों में से भी एक है। यह मंदिर सदियों पुराना है इसी वजह से हिंदू धर्म के लोगों की इस मंदिर के साथ बहुत गहरी आस्था भी जुड़ी हुई है।

पंचमुखी हनुमान मंदिर, कराची

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस मंदिर को लेकर यह मान्यता भी है कि यह मंदिर करीब 1500 साल पुराना है। इस मंदिर में त्रेतायुग से 17 लाख साल पुरानी हनुमान जी की एकमात्र मूर्ति इसी मंदिर में स्थापित है और साथ ही आपको बता दें कि इस मंदिर का पुनर्निर्माण साल 1082 में कराया गया था। इस मंदिर में भी हनुमान भक्तों की भीड़ हमेशा लगी रहती है।

कटासराज मंदिर, चकवाल-पाकिस्तान

दरअसल आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भगवान शिव की पत्नी जब सती हो गई तो महादेव की आंख से आंसू गिरे थे। जिनमें से एक आंसू भारत के पुष्कर में तो वही दूसरा आंसू पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के चकवाल जिले में गिरा था। बताया यह भी जाता है कि पाकिस्तान में अब से करीब 900 साल पहले कटास राज मंदिर को बनवाया गया था। इस मंदिर में समय-समय पर भारतीय जनता पार्टी के प्रमुख नेता लालकृष्ण आडवाणी का परिवार भी दर्शन करने के लिए आता रहता है।

स्वामी नारायण मंदिर, कराची

ये मंदिर पाकिस्तान के कराची शहर के बंदर रोड पर स्थित है और आपको बता दें कि ये मंदिर करीब 32306 हजार स्कवेयर यार्ड मैं बना हुआ है। यह मंदिर करीब 160 साल पुराना है। और इस हिंदू मंदिर में हिंदू-मुस्लिम लोगों की आवाजाही बनी रहती है। यही नहीं जब देश का बटवारा हो रहा था तो उस दौरान इस हिंदू मंदिर का उपयोग रिफ्यूजी कैंप की तरह किया गया था और आपको बता दें कि इस मंदिर के परिसर में एक गुरु नानक गुरुद्वारा भी मौजूद है। साथ ही आपको यह भी बता दें कि हिंगराज मंदिर के लिए यात्रा इसी मंदिर से शुरू करनी होती है।

सूर्य मंदिर, मुल्तान

इस मान्यता के बारे में शायद आप लोगों ने सुना भी होगा कि रामायण वाले रामवंत ने अपनी बेटी जामवंती की शादी कृष्ण से करवाई थी और आपको बता दें कि जामवंती और कृष्ण के बेटे का नाम था साम। इस मंदिर का निर्माण उन्हीं ने करवाया था। इस मंदिर को बनवाने के पीछे वजह थी भगवान शिव के द्वारा पिता को मिले श्राप से मुक्ति। अब से करीब 1500 साल पहले इस मंदिर में घूमने के लिए आए एक चीनी बौद्ध भिक्षुओं ने इस मंदिर के बारे में कई बातें लिखी हैं। दरअसल उस चीनी बौद्ध भिक्षु ने इस मंदिर के बारे में बताया कि मोहम्मद बिन कासिम और मोहम्मद गजनी ने इस मंदिर को एक बार नहीं बल्कि कई बार लूटा था।

श्री वरुण देव मंदिर, कराची

यह मंदिर करीब 100 साल से भी ज्यादा पुराना है। और ये मंदिर पाकिस्तान सिंध में कराची के मनोड़ा आइलैंड में बना हुआ है। साथ ही आपकी जानकारी के लिए यह भी बता दे कि पाकिस्तान में अब इस मंदिर का उपयोग हिंदू काउंसिल ऑफ पाकिस्तान के कामों के लिए होता है। इस मंदिर को लेकर कहा तो यह भी जाता है कि 16वीं सदी से यह मंदिर अस्तित्व में था। लेकिन इस मंदिर का मौजूदा ढांचा साल 1917-18 का बना हुआ है।

राम मंदिर, इस्लाम कोट

हमारे देश में राम मंदिर को लेकर हर राम भक्त के अंदर बहुत गहरी आस्था है। हमारे देश भारत में कई सारे राम मंदिर मौजूद हैं। लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दे कि हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान में भी कुछ राम मंदिर स्थित हैं और इन सभी मंदिरों में सबसे विशेष राम मंदिर है। इस्लाम कोट में मौजूद ये राम मंदिर है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.