Loading...

योगी सरकार अब गायों को रखेगी जेल में, बंदी करेंगे देखभाल, बदले में कैदियों को मिलेगा मेहनताना

0 25

गोरक्षा के लिए मशहूर और गायों के लिए नई योजनाएं लाने वाली उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के लिए गाय अब मुसीबत का दूसरा नाम बन चुकी है. जी हां, पूरे प्रदेश में जहां देखो गाय ही नज़र आती हैं और उनके बढ़ते उत्पात से प्रदेश के किसान भी परेशान हैं.

पुरे प्रदेश में जहां देखो वहां गाय ही दिखती हैं , सड़कों से लेकर स्कूलों में, अस्पतालों में, खेतों में और कूड़े कचरे के ढेर पर हर जगह मंडराती गायों को देखा जा सकता है.

यूपी के किसान भी इस समस्या से अच्छे खासे परेशं हैं. जब से योगी सरकार के कार्यकाल में गोवंश की हत्या और तस्करी पर तो लगाम लगी है तब से ये दूसरी मुसीबत खड़ी हो गई है.

इस समस्या से निपटने के लिए ही यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया है कि पूरे राज्य में जगह जगह गोशाला बनाई जाएंगी.

Loading...

इतना ही नहीं सीएम योगी ने 10 दिन के भीतर आवारा पशुओं को गोशाला में भेजने का अल्टीमेटम भी दे दिया है. सीएम योगी के आदेश के बाद आवारा पशुओं को पकड़ने का काम शुरू हुआ. यह भी ऐलान हुआ कि जो भी किसान अपनी गाय को खुला छोड़ेगा, उस पर 5 हजार का जुर्माना लगाया जाएगा. हालांकि इस फरमान का असर उस स्तर पर नहीं हुआ जिस स्तर पर होना चाहिए था.

बता दें कि अब इन गायों के आतंक से परेशान किसान अब पूस की रात में अपने खेतों की रखवाली खुद कर रहे हैं. जो गौशालाएं खुली हैं वो भी कुछ ख़ास नहीं हैं. अलीगढ़ में खुले में बनी एक गोशाला में ठंड की वजह से पिछले कुछ दिनों में 6 गायों ने दम तोड़ दिया.

माना जा रहा है कि ऐसे में किसानों की नाराजगी बढ़ती जा रही है. अब इस समस्या का हल निकालने के लिए प्रेदेश की योगी सरकार ने नया तरीका खोज निकाला है.

जी हां, दरअसल सुनने में आ रहा है कि योगी सरकार इन गायों को प्रदेश की खाली पड़ी जेलों में रखने की तैयारी में है. जानकारी के मुताबिक जेलों में गायों के पहुंचने के बाद बंदी इनकी देखभाल करेंगे. इसके लिए कैदियों को मेहनताना भी दिया जाएगा.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.