Loading...

घर से बाहर जाने से भी डरती है ये 75 बर्षीय बुजुर्ग, लोग देखते ही कर देते हैं इसकी पिटाई, वजह हैरान करने वाली

0 628

अन्धविश्वास भारत में खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा। आए दिन कहीं न कहीं से ऐसी खबरें सुनने को मिल जाती हैं जिससे 21वीं सदी वाले भारत की तस्वीर थोड़ी सी धुंधली नज़र आने लगती है।

जी हां, दरअसल अन्धविश्वास के नाम पर राजस्थान के एक गांव की बुजुर्ग लेहरी नामक महिला के संग अजीब सा अत्यचार हो रहा है। जी हां, 75 साल की लेहरी को उसके जेठ व उसके परिवार ने डायन घोषित कर गांव से चले जाने का फरमान सुना दिया है।

सुबह किसी के सामने आ जाए बुजुर्ग तो लोग कर देते हैं पिटाई

दरअसल लेहरी के पति भूरा राम गुर्जर लकवाग्रस्त हैं और कुछ दिन पहले लेहरी के जेठ के बेटे नारायण की कैंसर से मौत हो गई। बेटे की मौत के बाद नारायण की पत्नी ने लेहरी पर डायन होने का आरोप लगा दिया।

Loading...

इस वजह से लेहरी का घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो गया है। सुबह-सुबह किसी को सामने नजर आ जाए तो लोग उसकी पिटाई कर देते हैं। इस कारण से ये बुजुर्ग तीन बार आत्महत्या का प्रयास कर चुकी है।

इस वजह से लगा है महिला पर डायन का आरोप

इस मामले में सामाजिक कार्यकर्ता तारा अहलुवालिया ने दखल दिया है। उनके मुताबिक लेहरी की जमीन हड़पने के लिए जेठ के परिवार ने उस पर डायन का आरोप लगाया है।

पुलिस ने बोला इस्तगासे से दर्ज करा लो मुकदमा

इस मामले में लेहरी की नातिन 25 दिसंबर 2018 को रायपुर थाने में मामला दर्ज कराने गई। थाने का एक सिपाही मामले में बयान लेने भी गया लेकिन आज तक मुकदमा दर्ज नहीं हुआ।

फिर कुछ दिनों बाद 8 जनवरी को सामाजिक कार्यकर्ता तारा अहलुवालिया के साथ पीड़ित परिवार थाने में गया तो पता चला कि पुलिस ने आज तक मुकदमा ही दर्ज नहीं किया।

अहलुवालिया ने जब पूछा कि 15 दिन में मुकदमा दर्ज क्यों नहीं किया तो थानाधिकारी ने जवाब दिया कि आप इस्तगासे के जरिए मुकदमा दर्ज करा लो।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.