Loading...

महिला ने भूषण कुमार के खिलाफ दर्ज कराया था झूठा केस, जिस दिन की शिकायत उसी दिन ली वापस

0 13

मी टू कैंपेन के तहत भूषण कुमार के ऊपर उनकी फीमेल असिस्टेंट ने हैरेसमेंट का आरोप लगाया था। इस महिला ने मुंबई के ओशिवारा पुलिस स्टेशन में 16 जनवरी को भूषण खिलाफ के नाम शिकायत दर्ज कराई। लेकिन महिला ने उसी दिन केस भी वापस ले लिया और उसने साफ-साफ बताया कि उसने कृष्ण कुमार के कहने पर भूषण कुमार से पैसे ऐंठने के लिए केस दर्ज कराया था।

पहली शिकायत में महिला ने बताया 2017 का मामला

महिला ने जो पहली लिखित शिकायत दर्ज की, उसके मुताबिक यह मामला सितंबर 2017 का था। जब वह फिल्म भूमि के प्रीमियर पर भूषण कुमार से मिली थी। उस समय भूषण कुमार ने महिला का फोन नंबर भी लिया। एबीपी न्यूज की खबर के मुताबिक, लिखित शिकायत में महिला ने बताया कि भूषण कुमार ने उसे दिवाली पार्टी पर बुलाया। इसी दौरान महिला ने अभिनेत्री बनने की इच्छा के बारे में भूषण कुमार को बताया।

Loading...

सामने आई हकीकत

शिकायत करने के बाद महिला ने एक और लिखित बयान में कहा कि वह 16 जनवरी को की गई शिकायत को वापस लेने जा रही है, जो मैंने भूषण कुमार और कृष्ण कुमार के खिलाफ दर्ज की थी। मैं झूठे आरोपों के लिए माफी मांगती हूं, जो डिप्रेशन में लगाए गए। मेरा इरादा उनकी छवि को नुकसान पहुंचाना नहीं था। मैं कृष्ण कुमार से निवेदन करती हूं कि वह अंबोली पुलिस स्टेशन में मेरे खिलाफ की गई शिकायत वापस ले लें।

भूषण ने दर्ज कराई थी शिकायत

भूषण कुमार अपने ऊपर के आरोप को लेकर 2018 में अक्टूबर के महीने में अंबोली पुलिस स्टेशन में अनजान महिला के विरुद्ध खिलाफ शिकायत दर्ज करा चुके हैं। भूषण ने ट्वीट कर कहा- मेरा नाम बेवजह इससे जुड़ा है। लेकिन कुछ ही मिनट के बाद उसे डिलीट भी कर दिया।

पत्नी ने किया सपोर्ट

भूषण कुमार पर आरोप लगने के बाद उनकी पत्नी और डायरेक्टर दिव्या खोसला ने एक पोस्ट किया. जिसमें उन्होंने अपने पति को बेगुनाह बताया। दिव्या ने अपने ट्वीट में लिखा- आज टी-सीरीज जहां है, वह मेरे पति की मेहनत के दम पर है। लोग तो पूजनीय भगवान कृष्ण के खिलाफ खड़े हुए थे। मी टू कैंपेन बेशक सोसाईटी को साफ करने के लिए है। लेकिन कुछ लोग इसका गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। मैं अपने पति के साथ खड़ी हूं। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि लोग बिना किसी सबूत के उन पर आरोप लगा रहे हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.