Loading...

जब काला चश्मा पहन निकलती थी सुचित्रा तो उन पर टिक जाती थी सबकी नजरें, बिपाशा के लिए मिले थे 1 लाख

0 3

हिंदी सिनेमा की मशहूर अदाकारा सुचित्रा सेन की आज डेथ एनिवर्सरी है। 2014 में सुचित्रा की आज के दिन ही मृत्यु हो गई थी। बता दें कि सुचित्रा ने 1952 में बांग्ला फिल्म सारे चतुर से अभिनय करियर की शुरुआत की। सुचित्रा सेन भारतीय सिनेमा की ऐसी अभिनेत्री हैं, जिनको अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली। सुचित्रा का असली नाम रोमा दासगुप्ता था। उनके पिता अरुणोदय दासगुप्ता स्कूल में हेडमास्टर थे. आइए उनके जन्मदिन पर जानते हैं उनसे जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें.

सुचित्रा ने अपनी पढ़ाई पवना से की। इसके बाद उन्होंने इंग्लैंड के समरविले कॉलेज, ऑक्सफोर्ड से ग्रेजुएशन किया। 1947 में सुचित्रा ने बंगाल के मशहूर बिजनेसमैन आदिनाथ सेन के बेटे दीबानाथ सेन के साथ शादी कर ली। सुचित्रा ने 1952 में अभिनय क्षेत्र में कदम रखा और बांग्ला फिल्म ‘शेष कोथा’ में काम किया। लेकिन यह फिल्म रिलीज नहीं हो पाई। 1962 में रिलीज हुई फिल्म बिपाशा के लिए सुचित्रा को एक लाख रूपये की फीस मिली थी। जबकि फिल्म के हीरो उत्तम कुमार को केवल 80 हजार रूपये मिले थे।
सुचित्रा की फिल्म सात पाके बांधा 1963 में रिलीज हुई। इस फिल्म के लिए उनको मास्को फेस्टिवल में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार भी मिला। सुचित्रा विदेश में पुरस्कार पाने वाली पहली भारतीय अभिनेत्री बनी।

मिसेज सेन के नाम से मशहूर सुचित्रा सेन भारत की पहली ऐसी अभिनेत्री हैं, जिन्होंने फिल्मी करियर की शुरुआत मां बनने के बाद की। उनका हर अंदाज निराला था। जब वे चश्मा लगाकर धूप में निकलती थी, तो लोग उनको देखते रह जाते थे। सुचित्रा सेन की फिल्म देवदास 1955 में रिलीज हुई, जिसमें सुचित्रा ने पारो की भूमिका निभाई थी। 1975 में आई सुचित्रा की फिल्म आंधी में को बहुत सफलता मिली। इस फिल्म के गाने आज भी याद किए जाते हैं।

Loading...

सुचित्रा ने राज कपूर के साथ एक फिल्म में काम करने से मना कर दिया था, क्योंकि उनको राज कपूर द्वारा झुककर फूल देने का तरीका पसंद नहीं आया। सुचित्रा की अंतिम फिल्म 1978 में रिलीज हुई, जिसका नाम ‘प्रणोय पाश’ था। यह फिल्म बांग्ला थी। इसके बाद उन्होंने फिल्में करना छोड़ दिया और रामकृष्ण मिशन की सदस्य बन गई।1972 में सुचित्रा को पद्म श्री से भी सम्मानित किया गया था। लोगों के दिलों पर अपनी छाप छोड़ने वाली सुचित्रा सेन 17 जनवरी, 2014 को इस दुनिया को अलविदा कह गई।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.