एक ऐसी हत्यारिन रानी जो जवानी को अमर रखने के लिए कुंवारी लड़कियों के खून से करती थी स्नान

0 23

स्त्री की सबसे बड़ी जहां होती है कि वह सुंदर दिखे, सुंदर दिखने के लिए स्त्रियां कुछ भी कर सकती है। सुंदर दिखने के लिए स्त्रियां दुनिया भर की चीजों का इस्तेमाल करती हैं जिससे उनके रूप में निखार आ सके। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी हत्यारिन रानी के बारे में बताने जा रहे हैं। जिसकी सुंदर दिखने की सनक की वजह से कई महिलाओं और स्त्रियों की जान चली गई। ये रानी दूध या केसर से नहीं बल्कि स्त्रियों और महिलाओं के खून से नहाया करती थी।

हंगरी के शाही परिवार से ताल्लुख रखने वाली यह हत्यारिन रानी अपनी खूबसूरती बनाए रहने के लिए लड़कियों और महिलाओं को मौत के घाट उतारती थी। इस रानी का नाम एलिजाबेथ बाथरी था।

एलिजाबेथ ने ये सभी हत्याएं स्लोवानिया के चास्चिस स्थित अपने महल में की थी। रानी एलिजाबेथ बाथरी साल 1585 से 1610 के दौरान मतलब सिर्फ 25 साल के अंतराल में करीब 600 लड़कियों को मौत के घाट उतार दिया था।

रानी एलिजाबेथ ने ये सभी हत्याएं खुद की थी।ऐसा कहा जाता है की रानी केवल कुँवारी लड़कियों को चुनकर उन्हें अपने महल में बुलाती थी और फिर उन्ही हत्या कर देती थी।

कहानी सिर्फ यही नहीं ख़त्म होती बल्कि , हत्या करने के बाद रानी अपने ख़ास सहायक की मदद से लड़की के जिस्म से सारा खूब निकाल कर उसे इकट्ठा करती थी। फिर रानी उसी खून में नहाती थी क्योंकि उसे लगता था की ऐसा करने पर उसकी सुंदरता अमर रहेगी और वो कभी बूढी नहीं होगी।

ऐसा कहा जाता है कि मारने से पहले रानी लड़कियों पर खूब जुल्म और अमानवीय तरीके से अत्याचार करती थी।

प्रजा ने इस बात का कड़ा विरोध किया तब जाकर हंगरी के राजा ने साल 1610 में हत्यारिन रानी को गिरफ्तार कर उसे जेल में डलवा दिया। लोगों में इस रानी का काफी खौफ था। इस रानी को मौत दे दी जाए।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अगस्त 1614 को कैद के दौरान ही इस रानी की मौत हो गई थी। लेकिन हंगरी के लोग उसे कभी भुला नहीं पायेगा। एलिजाबेथ बाथरी के जीवन पर कई किताबें भी लिखी जा चुकी है और फ़िल्में भी बनायीं जा चुकी है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.