बाप अपनी जिस बेटी की इज्जत बचाने के लिए समाज से भिड़ गया था, उसी बेटी ने दी उसे दर्दनाक मौत

0 27

परतापुर थाना क्षेत्र इलाके से रिश्तों को शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां पर एक नाबालिग बेटी ने अपने चाचा के साथ मिलकर पिता को मौत के घाट उतार दिया।नाबालिग लड़की और उसके चाचा के बीच कई दिनों से अवैध संबंध चल रहे थे। दोनों ने पहले किसी धारदार हथियार से हमला कर उसे मौत के घाट उतारा फिर शव को केरोसिन डालकर जला दिया। पुलिस ने इस मामले में कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं।

ये है पूरा मामला

दरसअल, जब नाबालिग लड़की पांच साल की थी तो उसकी मां पति से रिश्ता खत्म कर बेटी के साथ मायके चली गए। वहां से वो बेटी के साथ मथुरा पहुंची और अपने प्रेमी से शादी कर ली। बेटी करीब 11 साल तक उसके साथ रही। करीब 6 महीने पहले बेटी पिता को कॉल करती और पापा से कहती मैं मां के साथ नहीं रह सकती, यहां मुझे गलत नजरों से देखा जाता है। जिसके तुरंत बाद पिता अपने छोटे भाई के साथ मथुरापहुंच गया। पूर्व पत्नी के प्रेमी ने बेटी को नहीं ले जाने दिया तो प्रधान के कहने के बाद पंचायत बैठी। बेटी ने कह दिया कि वो पिता के साथ रहेगी नहीं तो जान दे देगी। करीब 6 महीने पहले पिता अपनी बेटी को परतापुर ले आया था।

बता दे कि लड़की का एक चाचा भी है जिसकी एक साल पहले शादी हुई लेकिन तीन महीने में ही पत्नी को छोड़ दिया। एक और चाचा है जिसके साथ लड़की की नजदीकियां बढ़ने लगी थीं। दोनों के बीच अवैध संबंध चल रहे थे। जिसकी भनक लड़की के पिता को लग गई थी। पिता ने इस बात का विरोध किया और कई बार समझाने की कोशिश भी की। लेकिन एक रात दोनों ने मिलकर उसकी हत्या कर दी, और घर से 150 मीटर दूर शताब्दीनगर में खाली प्लॉट में ले जाकर शव को बोरे में डाला और केरोसिन डालकरआग लगा दी। जिसके बाद से चाचा अपनी भतीजी को लेकर फरार है। अभी तक उसका कोई सुराग नहीं मिला है।

परतापुर थाने में मझले भाई ने हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराते हुए कहा कि उसके छोटे भाई ने भरोसे का कत्ल किया है। हम तो बेटी को ये कहकर लाए थे कि उसकी भी इज्जत है हम उसकी शादी घर पर ही करेंगे। लेकिन उसने हमें शर्मसार किया। हम समाज में कहीं मुंह दिखाने के लायक नहीं रहे।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.