Loading...

बुलेट ट्रेन के लिए सरकार बाजार भाव पर खरीदेगी जमीन, जो खुद देगा उसे मिलेगा 50% ज्यादा पैसा

0 22

गुजरात और मुम्बई के बीच बुलेट ट्रेन सर्वप्रथम चलेगी ऐसी मोदी सरकार की योजना है. अब इस प्रोजेक्ट के लिए जमीन देने वालों के लिए अच्छी खबर आई है. जी हां, बुलेट ट्रेनप्रोजेक्ट के लिए जमीन देने वालों से सरकार बाजार भाव पर जमीन लेगी. यानि आपको नुक्सान तो किसी भी कीमत पर नहीं होगा.

और तो और जो लोग स्वेच्छा से यानि कि अपनी इच्छा से अपनी जमीन देंगे उन्हे 50 % ज्यादा पैसा दिया जाएगा. गुजरात सरकार का कोर्ट में ये बयान आया है. बता दें कि इसके लिए आयकर विभाग जमीन की कीमत तय करेगा.

मिलेगी हजारों नौकरी

बता दें कि मोदी सरकार का ड्रीम बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के लिए काम शुरू हो चुका है. ऐसी संभावना है कि जनवरी से इस प्रोजेक्ट के लिए टेंडर जारी किए जाने शुरू कर दिया जाएंगे. जाहिर है कि अगर ये प्रोजेक्ट शुरू हो जाता है तो नौकरियां भी आएंगी.

Loading...

जी हां, दरअसल बुलेट ट्रेन के परिचालन के लिए नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड की ओर से लगभग 3500 लोगों की डायरेक्ट जॉब प्लेसमेंट की जाएगी.

मालूम हो कि इसमें गाड़ियों को चलाने के लिए पायलट, पटरियां बिछाने व उनकी देखरेख के लिए स्टॉफ रखा जाएगा. बता दें कि सिग्नलिंग व अन्य तकनीकी कामों के लिए भी भर्ती की जाएगी.

1.10 लाख करोड़ का है बजट

आपको याद हो कि अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन परियोजना के प्रस्ताव की 2014 में घोषणा की गई थी. जबकि इसकी योजना 2010 से बनाई जा रही थी.

बता दें कि इसका निर्माण 1.10 लाख करोड़ रुपये की भारी भरकम राशि से किया जाएगा जिसकी करीब 20 % राशि जापान से एक तरीके के ऋण के रूप में ली जाएगी.

अहमदाबाद-मुंबई रूट के लिए गुजरात में 8 स्टेशन होंगे

गुजरात में इस प्रोजेक्ट के लिए 8 स्टेशन बनेंगे। इसमें वापी, भरूच, वड़ोदरा, आणंद, अहमदाबाद, बिलिमोरा, सूरत शामिल होंगे जबकि महाराष्ट्र में लगभग तीन स्टेशन होंगे.

बुलेट ट्रेन के स्टेशनों की होगी बेस्ट कनेक्टिविटी

बता दें कि कनेक्टिविटी के मामले में बुलेट ट्रेन के स्टेशन काफी आगे होंगे. इन स्टेशनों को मेट्रो, बस व अन्य परिवहन के साधनों से भी जोड़ा जाएगा.

बता दें कि गुजरात से मुम्बई के बीच बुलेट ट्रेन के 12 स्टेशन बनने हैं ये स्टेशन बांद्रा कुर्ला कांम्पलेक्स, ठाणे, विरार, बोईसर, वापी, बिलिमोरा, सूरत, भरूच, वरोदरा, आनंद, साबरमती और अहमदाबाद हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.