Loading...

अगर चेन्नई की टीम लगाती इन तीन खिलाड़ियों पर बोली, तो बन जाती IPL की सबसे खतरनाक टीम

0 23

आईपीएल 2019 के लिए नीलामी की प्रक्रिया में केवल 70 लोगों को ही किसी टीम में जगह मिल पाई। अब जल्द ही आईपीएल अगले साल शुरू होने वाला है।

टीम के मालिकों ने अपने हिसाब से चहेते खिलाड़ी खरीदे। महंगे खिलाड़ियों की बात करे तो जयदेव उनादकट और वरुण चक्रवर्ती सबसे महंगे बिके। जयदेव को राजस्थान रॉयल्स ने 8.4 करोड़ रुपये में ख़रीदा। वहीं इसी प्राइस पर वरुण को किंग्स XI पंजाब में शामिल किया गया।

विदेशी खिलाड़ियों की बात करें तो सैम करन और कॉलिन इन्ग्राम को क्रमश: 7.2 करोड़ रुपये और 6.4 करोड़ रुपये में ख़रीदा गया।

उधर चेन्नई सुपरकिंग्स टीम में सिर्फ 2 ही खिलाड़ी खरीदे। दरअसल इस टीम में ज़्यादातर जगह पहले ही से भरी जा चुकी थी तो इसलिए नीलामी के दौरान इन्हें सिर्फ़ 2 खिलाड़ियों की ज़रूरत थी। धोनी की टीम ने आईपीएल2019 के लिए मोहित शर्मा और ऋतुराज गायकवाड़ को चुना है।

Loading...

क्रिकेट एक्सपर्ट्स की मानें तो चेन्नई सुपरकिंग्स टीम इससे बेहतर खिलाड़ियों पर दांव लगा सकती थी। दरअसल हम यहां उन 3 खिलाड़ियों को लेकर चर्चा कर रहें हैं जो चेन्नई में शामिल हो सकते थे और इन खिलाड़ी पर दांव लगाना फ़ायदे का सौदा साबित होता।

3. मनोज तिवारी

मनोज का न सेलेक्ट होना हर क्रिकेट फैन के लिए चौंकाने वाली बात है। दरअसल घरेलू क्रिकेट में मनोज का प्रदर्शन अच्छा रहा है, ऐसे में उनका किसी टीम में न चुना जाना आश्चर्य कर रहा है। मनोज स्पिनर्स के ख़िलाफ़ बेहतरीन खेल दिखाते हैं। और उनके पास अनुभव की भी कोई कमी नहीं है।

दरअसल इस वक़्त चेन्नई के पास अच्छे मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज़ नहीं है ऐसे में मनोज तिवारी इस कमी को पूरा कर सकते थे हालांकि ऐसा हो न सका। तिवारी पहले भी कप्तान धोनी के साथ खेल चुके हैं तब वो राइज़िंग पुणे सुपरजायंट टीम में माही के साथ थे।

2. सरफ़राज़ खान

सरफ़राज़ खान ने एक समय बैंगलोर टीम से खेलते हुए काफी नाम कमाया था लेकिन फिटनस और फॉर्म के चक्कर में वो दुबारा ऐसा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे और बैंगलोर ने उन्हें हटा भी दिया।

हालांकि पिछले वर्ष की आईपीएल की नीलामी में वो एकलौते ऐसे अनकैप्ड खिलाड़ी थे जिन्हें रिटेन किया गया था। लेकिन इस साल आरसीबी टीम ने उन्हें रिलीज़ कर दिया था।

आईपीएल 2019 की अगर बात करें तो इस बार नीलामी के लिए उनकी बेस प्राइस 20 लाख रुपये रखी गई थी। किंग्स XI पंजाब ने उन्हें 25 लाख की क़ीमत में ख़रीद लिया।

अगर चेन्नई टीम के सरफ़राज़ पर दांव लगाते तो उन्हें आसानी ये प्लेयर मिल जाता लेकिन चेन्नई ने इस युवा खिलाड़ी में दिलचस्पी नहीं दिखाई।

अगर सरफ़ाज़ चेन्नई में शामिल होते तो उन्हें धोनी के अंडर अपना करियर को निखारने का मौका मिलता लेकिन ऐसा हो न सका। बता दें कि भले ही सरफ़राज़ ख़राब फ़ॉम में चल रहे हैं लेकिन वो कभी भी किसी भी मैच में धमाल मचा सकते हैं और अपने प्रदर्शन से सबको चौंका सकते हैं।

1. मोहम्मद शमी

मोहम्मद शमी के लिए साल 2018 काफी अच्छा गया है। उन्होंने अपने प्रदर्शन से सबको इम्प्रेस किया है। आईपीएल में भी जब उनकी नीलामी शुरू हुई तब हर टीम उन्हें ख़रीदने को लेकर कोशिश करने लगी। हर टीम उन्हें अपने खेमे में शामिल करना चाहती थी।

और इसमें चेन्नई भी शामिल थी। चेन्नई के मालिकों ने भी काफ़ी कोशिश की लेकिन जैसे ही शमी की क़ीमत 4.8 करोड़ रुपये पहुंची धोनी की टीम ने दांव लगाना छोड़ दिया। हालांकि शमी की नीलामी के थोड़ी देर बाद ही चेन्नई ने मोहित शर्मा को 5 करोड़ में ख़रीद लिया।

अब चेन्नई के इस फैसले से हर कोई हैरान था कि मोहित की जगह शमी पर क्यों नहीं टीम ने इतनी लगाई।

शमी इस वक़्त ऑस्ट्रेलिया में हैं और वो काफी अच्छे फ़ॉम में हैं और टेस्ट क्रिकेट में वो धमाल मचा रहे हैं ऑस्ट्रेलिया में उनका दौरे अच्छा जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ़ मोहित शर्मा का प्रदर्शन पिछले कुछ सालों में इतना अच्छा नहीं रहा है कि उन पर 5 करोड़ की बोली लगाई जाए।

बरहाल अब ये तो देखने वाली बात होगी की चेन्नई की टीम का प्रदर्शन कैसा रहता है अगले साल होने वाले आईपीएल में।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.