Loading...

बुमराह के मुरीद बने ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क, बोले- ये बनेगा सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज

0 15

ऑस्ट्रेलिया में बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी का तीसरा मैच मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर चल रहा है और भारत इस मैच में मजबूती से पकड़ बनाए हुए है।

मालूम हो कि इस मैच में जहां भारत ने पहली पारी 443 पे डिक्लेयर कर दी थी वहीं ऑस्ट्रेलिया अपनी पहली पारी में केवल 151 पर ही ऑल आउट हो गया था। भारत की तरफ से जसप्रीत बुमराह ने शानदार गेंदबाजी करते हुए कंगारुओं के 6 बल्लेबाजो को पवेलियन भेजा था।

बुमराह के इसी शानदार प्रदर्शन का मुरीद अब हर कोई हो रहा है। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने भी जसप्रीत बुमराह की तारीफ की है और बुमराह की तारीफ करते हुए कहा कि वह तीनों प्रारूपों में जल्दी ही दुनिया का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज बनेगा।

बता दें कि जसप्रीत बुमराह ने तीसरे टेस्ट में 33 रन देकर छह विकेट लिये थे जिसकी बदौलत भारत ने आस्ट्रेलिया को पहली पारी में 151 रन पर आउट कर दिया था।

Loading...

क्लार्क फिलहाल सोनी नेटवर्क से जुड़े हैं और कमेंट्री कर रहे हैं। क्लार्क ने सोनी नेटवर्क से कहा,‘‘उसके साथ खेलना और उसका कप्तान होना दिलचस्प होगा। उस पर दबाव या अपेक्षाओं का असर नहीं पड़ता। वह सीखना चाहता है और बहुत मेहनती है। वह जल्दी ही दुनिया का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज बनेगा।’’

माइकल क्लार्क ने आगे कहा कि,‘‘अगले कुछ महीने में बुमराह तीनों प्रारूपों में दुनिया का नंबर एक गेंदबाज बनेगा, ऐसी मझे पूरी उम्मीद है।’’

यहां जानकारी के लिए बता दें कि तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की बेहतरीन गेंदबाजी से पहली पारी में बड़ी बढ़त हासिल करने के बावजूद भी आस्ट्रेलिया को फालोआन के लिये भारत ने आमंत्रित नहीं किया था।

और ऐसा करना भारत को शुक्रवार को थोड़ा मुश्किल में डाल गया हालांकि पैट कमिन्स के शानदार स्पेल के बावजूद भारत ने तीसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में अपना पलड़ा भारी रखा।

दरअसल कप्तान विराट कोहली ने इसके पीछे वजह ये बताई थी कि भारतीय गेंदबाज थक गए हैं। हालांकि क्रिकेट एक्सपर्ट्स और पूर्व दिग्गज क्रिकेटर्स कोहली के इस फैसले से सहमत नहीं दिखे।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.