Loading...

हनुमान अष्टमी: हनुमान जी की पूजा करते समय इन 8 बातों का रखना चाहिए विशेष ध्यान

0 32

पौष मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को हनुमान अष्टमी का पर्व मनाया जाता है। इस बार ये पर्व 29 दिसंबर, यानी शनिवार को है। इस दिन हनुमानजी की विशेष पूजा की जाती है। ऐसा माना जाता है कि इस दिन हनुमान जी अपने भक्तों पर विशेष कृपा बरसाते हैं। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार, हनुमानजी की पूजा करते समय कुछ बातों का खास ध्यान रखना चाहिए। ये बातें इस प्रकार हैं…

हनुमान जी की पूजा के दौरान इन बातों का रखें विशेष ख्याल

हनुमानजी को चोला चढ़ाने के लिए गाय के शुद्ध घी का ही प्रयोग करें। यदि गाय का शुद्ध घी न हो तो चमेली के तेल का उपयोग भी कर सकते हैं।

हनुमान जी को चोला चढ़ाने से लेकर पूजा समाप्त होने तक हनुमानजी के सामने शुद्ध घी का दीपक जलते रहना चाहिए।

Loading...

हनुमानजी को जो भी प्रसाद चढ़ाएं, वह शुद्ध तरीके से घर पर ही बनाया हुआ होना चाहिए।

यदि घर पर प्रसाद बनाने में कोई समस्या है तो हनुमानजी को गुड़-चने का भी भोग लगा सकते हैं।

हनुमानजी को जल चढ़ाते समय विशेष ध्यान रखें कि वह जल कुए का ही हो और पूरी तरह से साफ-स्वच्छ हो।

हनुमानजी को गंगा जल चढ़ाने का विधान भी है। इससे ‌हनुमान जी अपने भक्तों पर प्रसन्न होते हैं।

हनुमानजी को लाल फूल (गुलाब, कमल, गुडहल) व गुलाब का इत्र भी चढ़ाना चाहिए।

हनुमानजी के मंदिर के पास कुआं जरूर बनवाना चाहिए, जिससे भक्त शुद्ध होकर ही मंदिर में प्रवेश कर सकें।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.