Loading...

‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का ट्रेलर देख बौखलाए कांग्रेसी नेता, जानिए क्यों विवादों में घिरी फिल्म

0 15

बॉलीवुड एक्टर अनुपम खेर की अपकमिंग फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का ट्रेलर हाल ही में रिलीज हुआ है। लेकिन ट्रेलर के रिलीज होते ही ये फिल्म विवादों में घिर गई है। बीते दिनों ही इस फिल्म का ट्रेलर सामने आया था। बता दे कि ये फिल्म को देश के पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह के कार्यकाल पर आधारित है। लेकिन फिल्म का ट्रेलर देखने के बाद यूथ कांग्रेस महाराष्ट्र सहित कई अन्य कांग्रेसी नेताओं ने इस फिल्म को लेकर जमकर विरोध जताया था। वहीं डॉ मनमोहन सिंह ने इस ट्रेलर को देखने के बाद कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया है।

आपको बता दें कि ये फिल्म लेखक और मीडिया सलाहकार संजय बारू की एक किताब पर आधारित है। वहीं अब इस फिल्म को लेकर राजनीति भी शुरू हो चुकी है। ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ को कांग्रेस के कई नेताओं ने बीजेपी का एजेंडा कहा है। इसके साथ ही बता दें कि इस फिल्म को बीजेपी सही ठहरा रही है। आइए जानते हैं कि आखिर इस फिल्म को लेकर इतना विवाद क्यों हो रहा है?

संजय बारू की किताब शुरू से विवादों में घिरी रही

Loading...

ये फिल्म संजय बारू की किताब ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ पर ही आधारित है। खबरों के अनुसार संजय बारू ने जब ये किताब लांच की थी उस वक्त भी उन्हें और उनकी किताब को लोगों की बेहद आलोचना का सामना करना पड़ा था। वहीं विपक्षी पार्टियों ने भी उनकी इस किताब को काफी तूल दिया था।

यूपीए के कार्यकाल को लेकर

जानकारी दे दें कि पूर्व पीएम डॉ मनमोहन सिंह यूपीए 1 और 2 में प्रधानमंत्री रहे थे। साल 2004 से लेकर साल 2014 तक उन्होंने देश की कमान संभाली हुई थी। कई विपक्षी पार्टियों ने इस दौरान उन्हें रिमोट कंट्रोल वाला पीएम भी बोला था। मनमोहन सिंह पर आरोप लगे थे कि वह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के कहने के अनुसार ही काम किया करते थे। विपक्षी पार्टियां इस फिल्म को ऐसे में काफी उत्साहित हैं।

सोनिया गांधी की छवि को गलत तरीके से पेश करने पर विवाद

बता दें कि ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का ट्रेलर देखकर ये कहा जा सकता है कि इस फिल्म में सोनिया गांधी की छवि को गलत तरीके से पेश किया गया है। जो कि कांग्रेसी नेताओं और कार्यकर्ताओं को बिल्कुल भी पसंद नहीं आ रहा है। लेकिन विपक्षी पार्टियों के हाथ में लोकसभा चुनाव आने से पहले एक बड़ा मुद्दा लग सकता है।

फिल्म में तथ्यों को गलत ढंग से पेश किया गया

जानकारी दे दें कि यूथ कांग्रेस महाराष्ट्र ने फिल्म को लेकर विरोध दर्ज करते हुए मेकर्स से ये मांग की है कि ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ को रिलीज करने से पहले उन्हें दिखाया जाए। ताकि फिल्मों में जिन तथ्यों को गलत तरीके से पेश किया गया है उन्हें हटाया जाए।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.