Loading...

आपके ट्रेन सफर को और भी ज्यादा सुरक्षित बना देंगे ‛उस्ताद’, रखेंगे आपका पूरा ख्याल

0 254

बता दें कि हाल ही में रेलवे ने अपने यात्रियों की सुरक्षा और सहूलियत को ध्यान में रखते हुए कई कड़े नियमों का फैसला लिया है। हाल ही में रेवले ने सभी ट्रेनों में टीटीई को हैंड हेल्ड टर्मिनल यानी टैबलेटब् डिवाइस देने की बात कही थी, जिससे ट्रेन के अंदर सीटों का रियल टाइम ब्योरा दिया जा सके और लोगों को रिजर्वेशन कराने में आसानी हो सके। अब रेलवे AI रोबोट USTAAD (Under-gear Surveillance Through Artificial Intelligence Assisted Droid) को लेकर आया है जो ट्रेनों में सुरक्षा का ध्यान रखेगा। यह रोबोट ट्रेन के अंदर की रियल-टाइम जानकारी वाई-फाई के माध्यम से रेलवे अधिकारियों को भेजेगा। इस रोबोट को ऐसे तैयार किया गया है कि यह रेलवे कोच और इंजन को मॉनीटर कर सके और कोई खामी आने की स्थिति में उनकी तस्वीरें खींचकर रेलवे इंजीनियरों को भेज सके।

360 डिग्री तक घूम सकता है रोबोट

रेलवे ने इस रोबोट सेंट्रल रेलवे नागपुर जोन में तैयार किया गया है इस रोबोट के अंदर हाई डेफिनेशन कैमरा लगाया गया साथ ही यह 360 डिग्री भी घूम सकता है ताकि ट्रेन के हर कोने की निगरानी अच्छी तरीके से की जा सके। किसी अनिश्चितता की स्थिति में USTAAD के पास खामियों को जूम-इन करके देखने और उनका समाधान करने की भी क्षमता होगी, जो इंसानी नजर से चूक सकती हैं और जिनसे ट्रेन की सुरक्षा खतरे में आ सकती है।

Loading...

आपातकाल की स्थिति में भेजेगा फोटो

सेंट्रल रेलवे के एक बयान के मुताबिक यह रोबोट किसी भी मुश्किल स्थिति में ट्रेन की तस्वीरें और वीडियो स्टेशन पर मौजूद इंजीनियरों को भेज सकेगा इस रोबोट के परीक्षण होते ही इसे सभी ट्रेनों में लगाया जाएगा।

Ask Disha से ही पूछकर बुक करें टिकट

रेलवे ने अक्टूबर में ‘Ask Disha- Digital Interaction to Seek Help Anytime’ नाम की सेवा लॉन्च की थी, जिसके तहत IRCTC वेबसाइट पर आप ट्रेन का टिकट बुक करने से संबंधित हर तरह के सवाल का जवाब पा सकते हैं। रेलवे ने यह भी बताया कि यह artificial intelligence चाट बोट है जिसे किसी भी सरकारी वेबसाइट पर पहली बार लांच किया गया है।

ट्रैक्स के दोनों तरफ सेफ्टी वॉल

बता दें कि इससे पहले नवंबर में रेलवे ने ट्रैक्स के दोनों ओर सेफ्टी वॉल बनाने की भी घोषणा की थी जिससे कि लोग दुर्घटना से बच सकें।

रेलवे के मुताबिक इस प्रोजेक्ट की लागत 25 अरब रुपए आएगी। यह फेंस 2.7 मीटर ऊंची होगी और कंक्रीट से बनी होगी। फिलहाल रेलवे ने इस तरह के किसी भी प्रोजेक्ट की अभी तक कोई घोषणा नहीं की है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.