Loading...

मोदी सरकार की इस स्कीम को बैंकों ने पूरी तरह से दिखा दिया ठेंगा, फेसबुक पर शिकायतों का अंबार

0 15

शायद आपको याद होगा कि दिवाली से ठीक पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक पोर्टल लांच किया था जिसमें की मात्र 59 मिनट में एक करोड़ रुपए तक का लोन मिल सकता है। लेकिन बैंक मोदी की इस स्कीम को ठेंगा दिखाते हुए लोगों को लोन नहीं दे रहे हैं। लोग फेसबुक पर PSB लोन नामक एक पेज पर कह रहे हैं कि पोर्टल से तो आधिकारिक तौर पर लोन देने की स्वीकृति मिल रही है लेकिन बैंक लोन नहीं दे रहे हैं। कुछ भुक्तभोगी तो लोन के लिए अप्लाई करने से भी मना कर रहे हैं तो आइए जानते हैं हम आखिर क्यों नहीं मिल रहा है मोदी की स्कीम में लोन।

फेसबुक पेज पर शिकायतों का भंडार

फेसबुक पेज पर अवनीश अग्रवाल नामक एक व्यक्ति ने लिखा कि सैद्धांतिक तौर पर तो पोर्टल से उन्हें लोन मिलने की सारी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है और उन्हें पोर्टल से स्वीकृति भी मिल चुकी है इसके बाद भी बैंक ने अभी तक उन्हें लोन नहीं दिया है। बता दे कि अवनीश ने बीते 4 नवंबर को लोन के लिए अप्लाई किया था।

ब्याज पर नहीं मिल रही है 2 फ़ीसदी की सब्सिडी

Loading...

यूनिकॉम्प सेल्स की ओर से कहा गया है कि उन्हें लोन की अप्रूवल मिल गई। उन्होंने यह बताया कि एसबीआई ने उन्हें लोन पर मिलने वाले 2 फ़ीसदी सब्सिडी को देने से मना कर दिया है। जहां तक कोलाट्रल की बात है तो एसबीआई कोलाट्रल तो नहीं ले रहा है लेकिन पहले साल 2.1फीस दी और उसके बाद हर साल 1 फ़ीसदी चार्ज वसूल रहा है। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्कीम लॉन्च करते हुए कहा था कि छोटे व्यापारियों को 2 फ़ीसदी तक ब्याज में सब्सिडी मिलेगी और लोन भी बिना किसी कोलाट्रल के ही मिल जाएगा।

बैंक नहीं कर रहा है सपोर्ट

संजय सुखनानी नामक एक व्यक्ति ने फेसबुक पेज पर कमेंट करते हुए लिखा कि बीते 3 नवंबर को उन्होंने बैंक में लोन के लिए अप्लाई किया था जिसके बाद से वह दिन रात बैंक के चक्कर लगा रहे हैं लेकिन बैंक वाले सुनने को तैयार नहीं है। वहीं चंदन कुमार सिंह नामक एक व्यक्ति ने कमेंट किया कि अप्रूवल के बाद 30 दिन बीत चुके हैं लेकिन अभी भी बैंक कई तरह के डॉक्यूमेंट मांग रहा है और लोन देने में सपोर्ट नहीं कर रहा है।

शिकायतों पर नहीं मिल रहा है ठोस जवाब

फेसबुक पेज पर लोगों द्वारा की गई शिकायतों के बाद उन्हें किसी भी तरह का ठोस जवाब नहीं मिल रहा है केवल उनसे उनकी डिटेल मांगी जा रही है और कहा जा रहा है कि वह उनके मैसेज बॉक्स से संपर्क किया जाएगा।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.