Loading...

गजब: कुत्ते के नाम पर ही बना दिया गया राशन कार्ड, 8 साल बाद ऐसे सामने आई सच्चाई

0 29

वैसे तो आपने अभी तक फर्जी राशन कार्ड के बहुत सारे मामले सुने होंगे पर आज हम आपको गुजरात का एक ऐसा मामला बताने जा रहे हैं जिसको सुनकर आपको सरकारी महकमे सुस्ती का अंदाज हो जाएगा जी हां यहां एक परिवार पिछले 8 सालों से कुत्ते के नाम पर राशन ले रहा था क्या सोचा है आपने कभी कुत्ते के नाम पर राशन कार्ड। यह पूरा मामला तब सामने आया जब इस कुत्ते की मौत हो गई। जिससे तहसील में काफी हंगामा मच गया।

बताया जा रहा है कि यह परिवार बेहद ही गरीब है इस परिवार की नई नवेली बहू का नाम राशन कार्ड में नहीं था। घर की इस नई बहू का नाम जुड़वाने के लिए वह कई बार तहसील के चक्कर लगा चुके थे मगर अब शुरू की लेटलतीफी की वजह से महिला का नाम राशन कार्ड में ना जोड़ सका इसके बाद यह मामला सामने आया जब महिला ने कहा कि कुत्ते का नाम राशन कार्ड में जुड़वा सकते हो लेकिन मेरा नहीं।

अधिकारियों को जब इस बात का पता चला तो उन्होंने जांच पड़ताल की करने पहुंचे। जांच पड़ताल में सामने आया कि 8 साल पहले जब जनगणना करने वाले आए तो उन्होंने कुत्ते का नाम भी राशन कार्ड में जोड़ दिया जिसके बाद से ही परिवार पिछले करीब 8 सालों से कुत्ते के नाम पर सस्ता राशन खरीद रहा था बता देंगे कुत्ते का नाम कालू था। जो कि इस दुनिया में अब नहीं रहा।

वहीं अफसरों ने सफाई देते हुए कहा कि जनगणना के वक्त जब सरकारी कर्मचारी मुगलीबेन परमार के घर पहुंचे तो उन्होंने परिवार के सदस्य का नाम कालू लिखवा दिया था। हालांकि, अब शिकायत मिलने पर तहसीलदार कार्यालय ने परिवार का नया राशन कार्ड जारी कर दिया है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.