Loading...

सपा-बसपा गठबंधन बन सकता है 2019 में मोदी के दोबारा PM बनने की राह में रोड़ा – सर्व

0 22

भारतीय राजनीति में पुरानी कहावत है कि दिल्ली का रास्ता लखनऊ से होकर गुज़रता है। शायद सन 2014 में इस बात पर पूरी तरीके से मुहर लगा दी थी जिसमें यूपी में भाजपा को 80 में से 73 लोकसभा सीटें मिली थी जिसके बाद केंद्र में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए की सरकार बनी थी। इस बार सपा और बसपा का गठबंधन मोदी कि राह में रोड़ा बनता नजर आ रहा है। न्यूज़-सी वोटर का चुनाव पूर्व सर्वेक्षण भी इसी बात पर मुहर लगाता दिख रहा है।

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी का गठबंधन नरेंद्र मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने की राह में एक बड़ा रोड़ा मना जा रहा है।

हाल ही में एबीपी न्यूज़-सी वोटर के सर्वे के मुताबिक, अगर यूपी में सपा और बसपा का गठबंधन नहीं हो पाता तो एनडीए को आम चुनाव में 291 सीटें मिल सकती है, जो कि बहुमत के जादुई आकंड़े से 19 ज्यादा होंगी। हालांकि दोनों दलों का गठबंधन यदि बना रहता है तो 534 सदस्यीय लोकसभा में एनडीए की सीटें घटकर महज़ 247 रह जाएंगी। इस सूरत में उसे बहुमत के लिए 25 और सांसदों के समर्थन की जरूरत पड़ सकती हैं।

वहीं अगर इस महागठबंधन में अगर कांग्रेस भी शामिल होती है, जिसके लिए पार्टी भरसक कोशिश कर रही है, तो उसकी जीत का आंकड़ा और भी ज़्यादा हो सकता है। यूपी में हुए तीन लोकसभा सीटों पर उपचुनाव में इसने अपना दम दिखाया भी है, जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पारंपरिक सीट गोरखपुर, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या की सीट फूलपुर के अलावा कैराना में इसने जीत का लहराया था।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.