Loading...

6 आतंकी सभी के हाथ में मशीन गन, तभी एक किलोमीटर दूर बैठे फौजी ने भांप लिया खतरा और फिर एक ही गोली से

0 45

वैसे तो आप ने सेना की बहादुरी के कई सारे किस्से आज से पहले भी सुने होंगे पर हम आज आपको एक ऐसा किस्सा सुनाने जा रहे हैं जिसको सुनने के बाद आपको सेना पर और गर्व होगा।

ऐसी ही हैरतंगेज कहानी है अमरीकी सेना के एक जवान की, जिसने एक ही गोली से एकसाथ छह आतंकियों का सफ़ाया कर दिया था। उसने एक किलोमीटर की दूरी से ही आतंकियों को अपना निशाना बना लिया था। 2013 मेें अफगानिस्तान में हुई इस घटना के बारे में अमरीकी सेना ने हैरान करने वाली कहानी बताई है।

2013 में अमरीकी सेना अफगानिस्तान के कई हिस्सों में डिप्लॉय की गई थी। सेना वहां कई आतंकियों से निपटने में लगी थी। दक्षिण अफगानिस्तान के ककारन की एक पहाड़ी पर अमरीकी सेना का स्नाइपर बैठा हुआ था और करीब एक किलोमीटर की दूरी पर छह दहशतगर्द उसकी तरफ आ रहे थे।

पहाड़ पर लेटे हुए इस स्नाइपर ने देखा कि एक आतंकी एक सुसाइड जैकेट पहना हुआ था। जवान समझ गया कि अगर उसने आतंकी को नहीं रोका तो उसके साथियों की जान खतरे में पड़ जाएगी। 20 साल के इस युवा जवान ने देखा कि सबके हाथ में मशीन गन भी थी।

Loading...

सैन्य एक्सपर्ट्स ने बताया कि इतनी दूरी से निशाना लगाना बहुत ही कठिन काम होता है। ये और भी ज्यादा कठिन तब हो जाता है जब टारगेट मोशन कर रहा हो। स्नाइपर ने पूरा ध्यान केंद्रित करते हुए एक आतंकी की जैकेट पर एक बटन देख लिया। स्नाइपर समझ गया कि वो बटन जैकेट में लगे बम से जुड़ा हुआ हो सकता है, जिसे दबाते ही आतंक आत्मघाती हमला कर सकता है। स्नाइपर ने बिना देर किए ऐसा सटीक निशाना लगाया कि बंदूक से निकली गोली सीधे उसके बदन को चीरती हुई आरपार हो गई। जैसे ही बटन से गोली टकराई जैकेट में धमाका हो गया और उसके साथ पांच अन्य आतंकियों के भी चीथड़े उड़ गए।

आर्मी ने बताया कि 20 साल के इस फौजी ने दुनिया की सबसे ताकतवर L115A3 गन का इस्तेमाल किया था। जिससे उसने 900 मीटर यानी करीब 1 किलोमीटर की दूरी से टारगेट को मारा था। आतंकी करीब 20 किलो का विस्फोटक अपनी जैकेट में पहना हुआ था। आर्मी ने बताया कि इस युवा स्नाइपर ने इससे पहले तालिबान में करीब डेढ़ किलोमीटर की दूरी से एक आतंकी को इसी तरह मार गिराया था।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.