Loading...

बिहार में लोकसभा सीटों पर एनडीए का ऐलान, नीतीश बोले “मंदिर नहीं, विकास होगा चुनाव का मुद्दा”

0 14

पिछले कुछ दिनों से बिहार में सीटों के गठजोड़ को लेकर एनडीए में काफी उठापटक चल रही थी। इस बीच यह भी खबर आई कि शनिवार को सीटों का ऐलान हो सकता है मगर ऐसा ना हुआ। आज दिल्ली में सीटों का एलान करते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि बीजेपी और जेडीयू बिहार में 17-17 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। वही एलजीपी को 6 सीटें मिलेंगी। एलजीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविलास पासवान को एनडीए उम्मीदवार के रूप में राज्यसभा भेजा जाएगा। सीटों का ऐलान करने के बाद जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि सन 2019 का लोकसभा चुनाव मंदिर नहीं विकास के मुद्दे पर लड़ा जाएगा चुनाव।

अमित शाह ने राम विलास पासवान और नीतीश कुमार के साथ चर्चा करने के बाद सीटों का ऐलान करते हुए कहा कि 17 सीटों पर बीजेपी चुनाव लड़ेगी बिहार में। वहीं जेडीयू भी 17 सीटों पर ही बिहार में चुनाव लड़ेगी। जबकि एलजेपी मात्र 6 सीटों पर ही चुनाव लड़ेगी और एलजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविलास पासवान निकट भविष्य में जो भी राज्यसभा चुनाव आएगा। उसमें एनडीए के प्रत्याशी के रूप में राज्यसभा भेजे जाएंगे। अमित शाह ने यह भी बताया कि तीनों पार्टियों ने बिहार में एनडीए की स्ट्रैंथ और राजनीतिक हालात को देखते हुए यह फैसला लिया है।

शाह ने यह भी बताया कि फिलहाल कौन सी सीट पर कौन सी पार्टी चुनाव लड़ेगी यह तो अभी तक तय नहीं हुआ है। कुछ समय बाद यह भी तय हो जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि तीनों पार्टियों ने बिहार में राजनीतिक हालात और एनडीए की स्ट्रैंथ पर चर्चा करते हुए यह सोचा कि हमें 2014 से भी ज्यादा सीटें 2019 में लानी है। साथ ही फिर से नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए की सरकार बनानी है।

नीतीश कुमार ने बिहार में सीटों के फैसले को लेकर कहा कि जब बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सीटों के बंटवारे की घोषणा कर दी है तो अब आगे हम क्या बोलें हम सब मिलकर काम करेंगे और भविष्य में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में एनडीए की सरकार बनेगी।

Loading...

नीतीश ने पासवान को राज्यसभा में जाने पर खुशी जताते हुए कहा कि हमें बीजेपी को इस बात के लिए धन्यवाद देना चाहिए कि उसने राम विलास पासवान जी की प्रतिष्ठा को ध्यान में रखते हुए उन्हें निकट भविष्य में जो भी राज्यसभा चुनाव होगा उसमें इंडिया की तरफ से उम्मीदवार के रूप में राज्यसभा भेजा जाएगा इसके बाद उन्होंने कहा कि बिहार में हम मिलकर बहुत अच्छा चुनाव लड़ेंगे और सन 2014 से भी ज्यादा सीटें लाएंगे।

नीतीश ने यह भी कहा कि जब सन 2009 में बीजेपी की स्थिति पूरे देश में काफी खराब थी। तब भी बिहार ने उन्हें 40 में से 32 सीटें दी थी उन्होंने कहा कि हम 2009 से भी ज्यादा सीटें सन 2019 में लाएंगे।

लोक जनशक्ति पार्टी के नेता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने भी बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, नीतीश कुमार और वित्त मंत्री अरुण जेटली को धन्यवाद देते हुए कहा कि सब लोगो की राय थी कि जो भी फैसला हो वह आपस में बैठकर सम्मानजनक तरीके से हो जाए। एनडीए में आने का फैसला पूर्णता चिराग पासवान का था जो कि एलजेपी पार्लियामेंट्री बोर्ड के सदस्य भी हैं। पासवान ने कहां कि जहां तक बात है बिहार की हम 40 में से 40 सीटें जीतकर फिर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में सरकार बनाएंगे.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.