Loading...

घर की खाली पड़ी छत पर लगवा दीजिए टाटा का ये प्रोडक्ट, होगी 12.5 लाख तक की कमाई

0 164

आगर आप अपनी छत को कमाई का जरिया बनाना चाहते हैं तो हम आपके लिए आज ऐसी ही एक खबर लेके आए हैं। दरअसल ये खबर छत पर सोलर प्रोडक्ट को लगाने से संबंधित है।

इसके लिए टाटा का खास प्रोडक्ट मार्केट में आया है। कंपनी का दावा है कि आप टाटा पॉवर का खास सोलर प्रोडक्ट अपनी छत पर लगाते हैं तो आपको करीब 12.5 लाख रुपए की कमाई हो सकती है।

जी हां और साथ ही कंपनी ने ये भी कहा कि इससे आपके बिजली के बिल में 25 साल तक हर साल 50 हजार रुपए तक की बचत होगी।

रेजिडेंशियल रूफ टॉप निकाला है टाटा ने

Loading...

देश में सोलर एनर्जी का प्रयोग बढ़ रहा है तो ऐसे में बढ़ते सोलर एनर्जी के प्रयोग को देखते हुए टाटा पॉवर सोलर ने अभी कुछ महीने पहले ही मुंबई में सोलर एनर्जी से जुड़ा रेसिडेंसियल रूफटॉप सॉल्यूशन (Tata residential rooftop solution) पेश किया है।

इस प्रोडक्ट को कंपनी ने ‘अपनी छत को बनाइए अपना सेविंग अकाउंट’ टैग लाइन से लॉन्च किया है। मालूम हो कि इस प्रोडक्ट पर कंपनी आकर्षक स्कीम भी दे रही है।

ऐसे कमा सकेंगे 12.5 लाख रुपए

दरअसल टाटा कंपनी का दावा है कि रेसिडेंसियल रूफटॉप सॉल्यूशन छत पर लगवाने के बाद एक कस्टमर अपने बिल में सालाना 50 हजार रुपए की बचत कर सकता है।

बता दे की कंपनी ने इस प्रोडक्ट की उम्र 25 साल बताई है। ऐसे में ये दावा किया गया है कि इस अवधि के दौरान आपके करीब 12.5 लाख रुपए बच सकते हैं।

बता दें कि इससे कमाई का मतलब हकीकत ने पैसे मिलना नहीं है बल्कि बचत को हो कमाई माना गया है।तो इस हिसाब से कहें तो आप घर बैठे 25 साल में 12.5 लाख रुपए कमा सकते हैं। वह भी 50 हज़ार रुपए सलाना की दर से।

कितना आएगा इसको लगवाने में खर्चा

बता दें कि टाटा कंपनी ने फिलहाल इस रूफटॉप सॉल्यूशन के प्राइस को लेकर कोई खुलासा तो नहीं किया है हालांकि कुछ वेबसाइट्स जैसे इंडिया मार्ट पर इसके संबंध में जानकारी दी गई है।

इसके मुताबिक इस प्रोडक्ट को लगवाने का खर्च करीब 45 से 50 हजार रुपए आने की संभावना है। साथ ही इस पर सरकारों की ओर से मिलने वाली सब्सिडी भी हासिल की जा सकती है।

सरकार से मिलती है इतनी सब्सिडी

इस प्रोडक्ट को लगवाने में सरकार की तरफ से आपको सब्सिडी मिलती है। बता दें कि अगर आपके पास 100 वर्ग फुट की छत है तो इस पर आप 1 किलोवॉट की यूनिट लगा सकते हैं।

अब इस पर करीब 60 हजार रुपए का खर्च आने की संभावना रहती है। वर्तमान समय में इस पर सरकार करीब 30 फीसदी सब्सिडी देती है। यानि आपको कुल खर्चा इस राशि से 18 हज़ार कम यानि की 42 हज़ार का आ सकता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.