Loading...

कुंभ मेले में 15 करोड़ श्रद्धालुओं के लिए 600 किचन में बनाया जाएगा खाना, ऐसा होगा इंतजाम

0 26

भारत ही नहीं पूरी दुनिया में सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन है कुंभ मेला। कुंभ पर्व हिंदू धर्म का एक महत्वपूर्ण पर्व है, जिसमें करोड़ों श्रद्धालु कुंभ पर्व स्थल हरिद्वार, प्रयाग, उज्जैन और नासिकमें स्नान करते हैं। इनमें से प्रत्येक स्थान पर प्रति बारहवें वर्ष और प्रयाग में दो कुंभ पर्वों के बीच छह वर्ष के अंतराल में अर्धकुंभ भी होता है। यह दुनिया में मानवता की सबसे बड़ी सभा है जो अगले महीने शुरू हो रही है इस बार उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में आयोजित कुंभ मेले के दौरान नागा साधु सहित करोड़ों तीर्थयात्री पतित पावनी गंगा जमुना एवं सरस्वती में स्थान कर अपने पापों से मुक्ति पाएंगे।

ऐसा माना जा रहा है कि इस साल कुंभ में तकरीबन 12 से 15 करोड़ श्रद्धालु आ सकते हैं इनमें से कई बन 10 लाख तो केवल विदेशी पर्यटक ही होंगे इस बार तीर्थ यात्रियों को खाने ठहराने का इंतजाम भी विशाल स्तर पर किया जा रहा है। बता दें कि कुंभ का पावन मेला करीबन 8 दिन तक चलने वाला है।

कुंभ में आयोजकों की तरफ से कई बड़े इंतजाम किए गए हैं जैसे 600 बड़ी रसोईया बनाई गई हैं करीब 100,000 पोर्टेबल टॉयलेट तैयार किए गए हैं विशाल तंबू उपलब्ध कराए गए हैं ताकि यात्रियों ठहरने एवं खाने का इंतजाम अच्छे से हो सके। इसके साथ ही कई कंपनियां भी यहां पर लग्जरी टेंट लगा रही हैं।

कुंभ क्षेत्र में पर्यटन विभाग की ओर से कई इंतजाम किए जा रहे हैं जैसे की संस्कृति ग्राम में सभ्यता और संस्कृति नजर आएगी जिसे बंगाल के कलाकारों द्वारा आकार दिया जा रहा है स संस्कृति ग्राम में हजारों साल पुराने सिंधु सभ्यता की झलक तो मिलेगी इसके साथ ही आधुनिक भारत की तस्वीर भी यहां दिखाई देगी 7 करोड 40 लाख की लागत से तैयार हो रहा यह संस्कृति ग्राम करीब 8 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है जो कि आने वाली 31 दिसंबर तक बनकर तैयार हो जाएगा।

Loading...

कुंभ क्षेत्र में बताए जा रहे संस्कृति ग्राम में बौद्ध और जैन धर्म के साथ साथ ही मुग़ल सल्तनत के देश में विस्तार, वैदिक युग के साथ ब्रिटिश शासन, मराठा साम्राज्य, स्वतंत्रता संग्राम और शहीदों के ऐतिहासिक एवं साहसिक कहानियों को भी चित्रों और चलचित्रों के माध्यम से दिखाया जाएगा। इसमें स्वतंत्र भारत और अत्यधिक भारत पर लघु फिल्में भी दिखाए जाएंगे कुंभ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए यह ऐसा पहली बार हो रहा है इस आयोजन में भारतीय संस्कृति और सभ्यता को डिटेल प्लेटफार्म में ओपन थिएटर के माध्यम से प्रदर्शित किया जाएगा।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.