Loading...

उत्तराखंड: मलबे में दबे 16 मजदूर, 7 शव बरामद, हो रहा था ऑल वेदर रोड का निर्माण

0 17

शुक्रवार का दिन उत्तराखंड के लिए काफी दर्दनाक रहा। उत्तराखंड में बन रहे एक हाईवे पर बांसवाड़ा में चट्टान टूटने से हुआ बड़ा हादसा कई मजदूर मलबे में दब गए। फिलहाल बताया जा रहा है कि 7 मजदूरों की मौत हो चुकी है जबकि 3 मजदूर गंभीर रूप से घायल है।

रुद्रप्रयाग गौरीकुंड हाईवे पर शुक्रवार को अचानक उस समय मातम छा गया जब वहां पर ऑल वेदर रोड का काम चल रहा था इसी दौरान एक भारी-भरकम चट्टान टूटकर हाईवे पर गिर पड़ी। जिसके चलते वहां काम कर रहे मजदूर मलबे में दब गए और कई मशीनें भी क्षतिग्रस्त हो गई। एक जेसीबी नदी में भी गिर गई।

यह कोई नया मामला नहीं है इससे पहले भी उत्तराखंड के बद्रीनाथ हाईवे पर बाजी पुर गांव में जब ऑल वेदर परियोजना का कार्य चल रहा था तब एक बोल्डर की टक्कर एक आवाज से मकान के अंदर घुस गया था उस हादसे में गनीमत यह थी कि उस समय उस भवन मालिक कनक सिंह रावत एवं उनकी पत्नी अपने बेटे से मिलने बागेश्वर गए थे जिसकी वजह से एक बड़ा हादसा होने से टल गया।

उस वक्त भी जेसीबी से चट्टानी भाग में बोल्डर को तोड़ने का काम चल रहा था। इसी दौरान एक बोल्डर छटक के बाजपुर गांव में कनक सिंह रावत के मकान की दीवार को तोड़ते हुए उनके कमरे में जा घुसा था.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.