Loading...

गूगल पर सबसे ज्यादा यह सर्च करते हैं भारतीय, जानकर रह जाएंगे हैरान

0 56

ये बात सभी जानते हैं कि भारत में बेरोजगारी एक बड़ी समस्या हैं। ये बात हम नहीं कह रहे हैं बल्कि इस बात का खुलासा गूगल ने किया हैं। बता दे इस साल सबसे ज्यादा भारतीय ने की-वर्ड सर्च किया हैं। वो हैं ‘जॉब्स नियर मी। ‘ इससे एक बड़ी बात यह पता चलती हैं कि लोगों को अपने घर के आस पास जॉब की तलाश हैं।

Image result for भारतीय GOOGLE पर सबसे ज्यादा क्या खोज रहे हैं? जनाब एक अदद नौकरी!

हालांकि इससे पहले भी भारतीय लोगों ने गूगल पर नौकरी सर्च की होगी। लेकिन इस साल ये इतनी ज्यादा बार सच हुई हैं कि पिछले चार सैलून का रिकॉर्ड टूट गया हैं।

अगर हम गूगल ईयर इन सर्च के रिजल्ट पर नजर डाले तो यह साफ़ पता लगता हैं कि साल 2018 में टॉप 10 सर्चिंग की-वर्ड में सबसे ज्यादा सर्च हुआ की-वर्ड ‘जॉब्स नियर मी’ था।

Image result for भारतीय GOOGLE पर सबसे ज्यादा क्या खोज रहे हैं? जनाब एक अदद नौकरी!

Loading...

अगर हम जनवरी 2004 से लेकर दिसंबर 2018 के बीच के गूगल सर्चिंग के ग्राफ पर नजर डालें तो पता चलेगा कि जनवरी 2004 से मई 2014 के बीच इस ग्राफ की लाइन एकदम सीधी थी। जिससे पता चलता हैं कि ये की वर्ल्ड ज्यादा बार सर्च नहीं किया गया हैं।

Image result for भारतीय GOOGLE पर सबसे ज्यादा क्या खोज रहे हैं? जनाब एक अदद नौकरी!

बता दे मई 2014 में ये नंबर वन पर आया। वही नंबर जून 2014 में ये आंकड़ा एक से बढ़कर 2 पर पहुंच गया हैं। अप्रेल महीने के बाद 2017 में ये 17 पर, अगस्त 2017 में 50, अप्रैल 2018 में 88 और जुलाई 2018 में 100 हो गया।

Image result for भारतीय GOOGLE पर सबसे ज्यादा क्या खोज रहे हैं? जनाब एक अदद नौकरी!

हालांकि अभी तक इन इस नम्बर्स से इस बात का खुलासा नहीं होता हैं कि ये कीवर्ड कितनी बार सर्च किया गया। लेकिन इससे इस बात का बता साफ़ चलता हैं कि ये लोगों के द्वारा सबसे ज्यादा सर्च किया गया हैं।

Image result for भारतीय GOOGLE पर सबसे ज्यादा क्या खोज रहे हैं? जनाब एक अदद नौकरी!

बता दे गूगल में एक की वर्ल्ड का सबसे ज्यादा बार सर्च होने का मतलब हैं कि वो सबसे ज्यादा पसंद किया गया हैं। सबसे ज्यादा नौकरी की तलाश सिकंदराबाद, नवी मुंबई, थाणे, फरीदाबाज, गाजियाबाद, विशाखापटनम, बंगलूरू, हैदराबाद और गुरुग्राम में की गयी हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.