Loading...

अच्छी खबर: बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट से अब होगी नौकरियों की बौछार, बनाई ऐसी योजना

0 49

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण का कार्य बड़ी तेजी से चल रहा है। बता दें कि अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन परियोजना के प्रस्ताव की 2014 में घोषणा की गई थी। वहीं इसकी योजना 2010 से बनाई जा रही थी।

दिसंबर तक बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण का कार्य समाप्त कर लिया जाएगा। माना जा रहा है कि जनवरी के पहले हफ्ते में ही बुलेटिन परियोजना के लिए टेंडर में घोषित कर दिया जाएंगे।

कुछ आंकड़ों के हिसाब से लगभग 3500 लोगों की सीधी भर्ती इस प्रोजेक्ट में की जाएगी। इसमें गाड़ियों को चलाने के लिए पायलट, पटरियां बिछाने व उनकी देखरेख के लिए स्टॉफ रखा जाएगा। वहीं सिग्नलिंग व अन्य तकनीकी कामों के लिए भी भर्ती की जाएगी।

बता दें कि ट्रैक बिछाने के लिए लगभग 2 लाख वहीं स्लीपर्स बिछाने के लिए 4 फैक्ट्रियां लगाई जाएंगी। इसके लिए भी भर्ती की जाएगी। इन सीधी भर्तियों के अलावा इस प्रोजेक्ट से लगभग 10 हजार से अधिक लोगों को रोजगार मिलने की संभावना जताई जा रही है।

Loading...

बुलेट ट्रेन के लिए नए साल में टेंडर जारी

माना जा रहा है कि पहले हफ्ते में यह टेंडर घोषित कर दिए जाएंगे वहीं इस टेंडर को खुलने में लगभग तीन से चार महीने का समय लगेगा।

बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए पहले कर्मियों को परीक्षण दिया जाएगा यह परीक्षण वडोदरा में बने ट्रेनिंग सेंटर में दिया जाएगा।

फरवरी तक यहां पर लगभग 200 मीटर का बुलेट ट्रेन का एक ट्रैक तैयार कर दिया जाएगा। इस ट्रैक को तैयार करने के लिए जापान में बने हुए 20 स्लैब मंगाए गए हैं।

जापानी विशेषज्ञ करेंगे मदद

फिलहाल भारत में बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए 12 स्टेशनों को विकसित किया जाना है। इन स्टेशनों तथा आसपास के क्षेत्र करने को विकसित करने के लिए भारत के आर्किटेक्चर की मदद जापान के विशेषज्ञ करेंगे।

शहरों में बुलेट ट्रेन की कनेक्टिविटी को बेहतर करने के लिए सरकार ने यह निर्णय लिया है कि बुलेट ट्रेन को मेट्रो सहित अन्य परिवहन साधनों से भी जोड़ा जाएगा जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लोग बुलेट ट्रेन का सफर कर सकें।

गुजरात से मुम्बई के बीच बुलेट ट्रेन के 12 स्टेशन बनने हैं ये स्टेशन बांद्रा कुर्ला कांम्पलेक्स, ठाणे, वीरार, बोइसर, वापी, बिलिमोरा, सूरत, भरूच, वरोदरा, आनंद, साबरमती और अहमदाबाद हैं।

निर्माण में 1.10 लाख करोड़ रुपये का खर्च

अहमदाबाद मुंबई बुलेट ट्रेन परियोजना में माना जा रहा है कि लगभग 1.10 लाख करोड की भारी भरकम राशि से किया जाएगा, जिसकी करीब 20 फीसदी राशि जापान से दीर्घकालिक आसान ऋण के रूप में ली जाएगी।

अहमदाबाद-मुंबई गलियारे पर गुजरात में आठ स्टेशन -वापी, भरूच, वड़ोदरा, आणंद, अहमदाबाद, बिलिमोरा, सूरत- होंगे, जबकि महाराष्ट्र में लगभग तीन स्टेशन होंगे।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.