Loading...

1.25 लाख में शुरू हो जाएगी मैट बनाने की यूनिट, होगी 8.16 लाख की कमाई, सरकार देगी 95% लोन

0 23

हम सब चाहते हैं कि हमे कोई ऐसा बिज़नस करने को मिल जाए जिसमे जिसमें कम पैसा लगाना पड़े और कमाई ज़्यादा हो। यही नही हम तो ये भी चाहते हैं कि कुछ केस में तो हमे पैसा भी कम लगाना पड़े और हमे सरकारी मदद भी मिल जाए।

अगर आप भी ऐसा ही कुछ सोचते हैं तो हम आपके लिए एक ऐसा ही आइडिया लेके आएं हैं। दरअसल ये बिज़नस की स्कीम कॉयर बोर्ड द्वारा चलाई जा रही है। इसके तहत आप मैट बनाने की यूनिट लगाने के बारे में सोच सकते हैं।

कितना खर्चा आएगा

यहां बता दें कि कॉयर बोर्ड द्वारा तैयार किए इस प्रोजेक्ट रिपोर्ट के अनुसार कॉयर मैट मैकिंग यूनिट के लिए आपके पास लगभग 1.25 लाख रुपए होने चाहिए।

Loading...

अच्छी बात यहां ये है कि इस यूनिट को लगाने के लिए बाकी यानी की शेष लगभग 95 फीसदी राशि आप लोन के रूप में ले सकते हैं। इतना ही नहीं, कॉयर उद्यमी योजना के तहत आपको 40 फीसदी तक सब्सिडी भी मिल जाती है।

कितना मिल जाएगा लोन

कॉयर बोर्ड की इस स्कीम में इस प्रोजेक्ट के लिए आपको 95 फीसदी यानी 19 लाख 88 हजार रुपए का बैंक टर्म लोन और 95 फीसदी 3 लाख 87 हजार रुपए वर्किंग कैपिटल लोन मिल जाएगा।

कॉस्ट ऑफ प्रोडक्शन कितना होगा

कॉस्ट ऑफ प्रोडक्शन की जहां तक बात है तो आपको बता दें कि इसके लिए साल भर में आपको 31 लाख 51 हजार रुपए का रॉ मैटेरियल लेना होगा।

डाइंग पर खर्चे की बात करें तो इसमें 6.93 लाख रुपए का खर्च आएगा।

बिजली, स्पेयर, रिपेयर मेटेनेंस के खर्चों पर आपको 17 हजार रुपए पर खर्च होगा।

सैलरी की बात करें तो इस पर 9.58 लाख रुपए खर्च होंगे।

इन सब को मिला दें तो कुल यानी आपका साल भर का कॉस्ट ऑफ प्रोडक्शन 48.50 लाख होगा।

प्रॉफिट होगा कितना

अब सब कुछ होगया तो सेल की बात कर लेते हैं साथ ही सेल के बाद होने वाले नेट प्रॉफिट की भी बात कर लेते हैं।

बता दें कि अगर आप 270 रुपए प्रति वर्ग मीटर के हिसाब से 100 फीसदी माल बेच देते हैं तो आपकी 62 लाख 37 हजार रुपए की सेल्स होगी। यानी कि अन्य खर्च कम कर दिए जाएं तो आपको लगभग 8.16 लाख रुपए का नेट प्रॉफिट होगा।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.