Loading...

हो जाएं सतर्क, एक माचिस की तिल्ली से हैक हो सकता है आपका ATM, हैकर्स अपनाते हैं ये तरीके

0 14

आधुनिक समय में तकनीक दिन-प्रतिदिन आगे बढ़ती जा रही है। हर काम में तकनीक अपना योगदान देने में लगी हुई है। आज के समय में तकनीक बहुत आवश्यक भी हो चुकी है साथ ही हमारी ज़िन्दगी में इसकी अहमयित ने भी अधिक मात्रा में वृद्धि की है।

पैसों के लेन-देन में भी तकनीक एक अहम भूमिका निभाती है। आज के दौर में पैसों के लेनदेन में तकनीक काफी अहम किरदार निभा रही है। हर काम तकनीक की सुविधा से काफी सरल हो गया है।

हालाँकि तकनीक का एक नुकसान ये भी है कि अगर कोई गलत इरादे से उसका फायदा उठाने की कोशिश करता है तो नुक्सान होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।

दरअसल अब चोर भी उसी हिसाब से शातिर होते जा रहे हैं। ऑनलाइन ट्रांससेक्शन पर शातिर चोरों की सेंधमारी के बाद अब आपका एटीएम से पैसे निकालना भी चोरों के निशाने पर है। एटीएम से आपका डेबिट कार्ड का इस्तेमाल किया हुआ पिन ये शातिर चोर एक माचिस की तीली से चुरा रहे हैं। जी हां ये सच है।

Loading...

दरअसल हाल ही में एटीएम फ्रॉड से जुड़ा एक मामला दिल्ली से सामने आया है, जहां पर चोरों ने एक पूरे के पूरे एटीएम को ही हैक लार लिया।

माचिस की तीली का कर रहे उपयोग

अब चोरों की एक नई तकनीक सामने आयी है। आपके डेबिट कार्ड का बिन चुराने के लिए चोर शोल्डर सर्फिंग (पीछे से खड़े होकर यूजर का पिन जान लेना) का इस्तेमल कर रहे हैं।

हाल ही में आई कुछ एटीएम फ्रॉड की ख़बरों से ये खुलासा हुआ है कि चालाक चोर पैसे लूटने के लिए माचिस की तीली, ग्लू स्टिक, थर्मो कैम जैसी तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं।

इस मामले में साइबर एक्सपर्ट प्रबेश चौधरी ने दावा किया है कि हाल ही में दिल्ली में एक पीएनबी एटीएम हैक करने के लिए चोरों ने स्कीमर ट्रिक का यूज किया था।

क्या होती है स्कीमर ट्रिक

दरअसल इसका इस्तेमाल टीएम क्लोनिंग कार्ड पर निर्भर है। इस तकनीक के तहत किसी भी फ्रेश एटीएम में ब्लैंक कार्ड के जरिए आसानी से क्लोनिंग की जा सकती है।

इस पर क्रिप्ट्स साइबर सिक्योरिटी के डायरेक्टर मनीष कमावत ने बताया, ”उसके लिए एक डिवाइस होती है, जिससे उसे स्कैन करके ब्लैंक कार्ड पर डाल दिया जाता है।

कुमावत ने आगे कहा कि, “उसके बाद जरूरत पड़ती है, एटीएम पिन की जिसे फ्रॉड कॉल्स के जरिए यूजर से फोन पर भी लिया जा सकता है और एटीएम में खड़े होकर पीछे से पिन को नोट करके भी।’

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.