Loading...

दो लड़के 93 साल की बुजुर्ग महिला पर दिन-रात रख रहे थे नजर, क्या करती थी, कब आती-जाती थी और फिर

0 186

ये कहानी अमेरिका के एक शहर की है जहां 93 साल की एक बुजुर्ग महिला रहती है। और साथ ही दो स्कूल स्टूडेंट्स रोडनी स्मिथ और उसके बेस्ट फ्रेंड टैरेंस स्ट्ररोय की है जो उसी के घर के पास रहते थे।

दरअसल बुजुर्ग महिला अपने घर में बिल्कुल अकेली रहती थी। उसकी केयर करने वाला भी कोई नहीं था। इतनी उम्र के बावजूद उसको सारा काम खुद ही करना पड़ता था।

स्मिथ और टैरेंस अपने मोहल्ले में रहने वाली इस बुजुर्ग को अक्सर काम करते हुए देखा करते थे और उसकी मदद करने के बारे में सोचते थे।

महिला की मदद को पहंचे

Loading...

एक दिन उन्होंने महिला को काम करते देखा, तो इन दोनों लड़कों से रहा नहीं गया और वे उसके पास मदद करने के लिए पहुंच गए। महिला उनसे मदद का ऑफर पाकर बेहद खुश हो गई।

वायरल हो गई शख्स की पोस्ट

स्मिथ ने इस बारे में अपनी फेसबुक वॉल पर भी लिखा, उसके लिखा की ‘आज हमने इस प्यारी सी महिला के लॉन की सफाई की। ये 93 साल की है, वो अपने लॉन की घास काटने की कोशिश कर रही थी।

इसके बाद हमने फैसला किया कि अब हम हर दो हफ्तों में उनके घर जाकर उनके लॉन की सफाई करेंगे। समाज में बदलाव लाने की हमारी एक कोशिश है।’

स्मिथ की शेयर की फेसबुक पोस्ट को कुछ ही हफ्तों में 2.5 लाख से ज्यादा लोगों ने शेयर कर लिया। साथ ही लोगों ने उसे इस काम के लिए जमकर शाबासी भी दी।

इस घटना से प्रेरणा लेकर उसने एक लॉन केयर सर्विस शुरू कर दी। जिसका नाम उसने ‘राइजिंग मेन लॉन केयर’ रखा। जो महिला की तरह ही बेसहारा लोगों की जाकर मदद करती थी। इसके जरिए वो बुजुर्गों की सहायता करने लगे।

शुरुआत में उन्होंने 40 लॉन की सफाई का लक्ष्य रखा, लेकिन दो महीने के अंदर ही स्मिथ और उसके वॉलेंटियर्स के पास 200 लॉन की सफाई का काम मिल गया। इसके बदले में वे कुछ भी पैसा नहीं लेते थे।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.