Loading...

तीन शराबी शराब के नशे में बस समझ कर रोक रहे थे ट्रैन, दो की हुई बड़ी दर्दनाक मौत

0 83

कहते हैं कि शराब बहुत खराब चीज होती है और यह जानलेवा भी होती है। अक्सर नशे में लोग ऐसी हरकतें कर देते हैं जिससे उनकी जान चली जाती है। लेकिन कुछ लोग मानते ही नहीं।

ऐसा ही एक किस्सा कानपुर से सुनने में आया है जहां पर कुछ शराबियों ने ट्रेन को बस समझकर रोकने की कोशिश की यानी की पटरी पर खड़े होकर ट्रेन के सामने उसको बस समझकर रोकने की कोशिश की ओर इस चक्कर में दो शराबियों की जान चली गई।

इस घटना का संबंध कानपुर के चकेरी क्षेत्र से है, जहां मानस विहार निवासी विकास जोजफ (35) एक प्राइवेट कम्पनी में काम करता था। उसके साथ लाल बंगला निवासी पप्पू एडमिन और लखनऊ के ठाकुरगंज एकता नगर निवासी राकेश सैनी (37) भी काम करता था।

Loading...

परिजनों द्वारा पुलिस को दी गई जानकारी के मुताबिक डय़ूटी खत्म करने के बाद तीनों लोगों ने एक दुकान पर जाकर जमकर शराब पी। इसके बाद विकास और पप्पू साथी राकेश को लखनऊ भेजने के लिए ट्रेन में बैठाने के लिए निकले।

बताया जा रहा है कि इसके बाद तीनों रिक्शे से सीओडी क्रॉसिंग के पास पहुंचे और वहां पर ट्रैक पर खड़े होकर ट्रेन रोकने का प्रयास करने लगे।

पुलिस को प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि नशे में धुत तीनों युवक हाथ का इशारा करके ट्रेन रोकने का प्रयास कर रहे थे। उन्हें शोर मचाकर पटरी से हटने को भी कहा गया, लेकिन उन्होंने किसी की नहीं सुनीं।

कुछ ही देर में सुपर फास्ट एक्सप्रेस तीनों को टक्कर मारते हुए गुजर गयी। जिसके बाद हुए हादसे में राकेश सैनी की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि पप्पू मामूली और विकास गंभीर रूप से घायल हो गया।

सूचना पर कैंट पुलिस मौके पर पहुंची और गंभीर रूप से घायल विकास को लेकर हैलट पहुंची, जहां डॉक्टरों ने उसे भी मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद मृतकों के परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.