Loading...

LPG का पूराना नियम हो सकता है लागू, खत्म हो सकता है सब्सिडी ट्रांसफर सिस्टम

0 106

पिछले कुछ सालों से LPG सिलेंडर लेने के संबंध में सब्सिडी सीधे हमारे बैंक अकाउंट में आती है. यह सुविधा मोदी सरकार ने शुरू की थी लेकिन अब इस फैसले को फिर से बदला जा रहा है और वापस पुराने नियम लागू किए जाने की संभावना है.

अब आपको सिलेंडर के लिए उतने ही पैसे देने होंगे जितने कि उसकी वास्तविक कीमत है यानी कि अब आपको यह चिंता नहीं रहेगी कि सब्सिडी की राशि आपके अकाउंट में आई या फिर कितनी देरी से आई या नहीं आई. इस तरह की चिंताओं से अब आप पूरी तरह मुक्त हो जाएंगे.

उपभोक्ता के साथ-साथ सरकार को फायदा

दरअसल इस कदम से उपभोक्ताओं को फायदा होगा साथ ही सरकार का भी फायदा हो सकता है चूँकि अगले साल चुनाव हैं और इसी को मद्देनजर रखते हुए ऐसी अटकलें लगाई जा रही हैं की इसीलिए सरकार पुराने नियम लगाने के विचार में है.

Loading...

बता दे कि इस वक़्त देश में करीब 24 करोड़ से भी ज्यादा परिवार रसोई गैस सिलेंडर का इस्तेमाल कर रहे हैं. और ऐसी उम्मीद है कि अगले एक डेढ़ साल में यह संख्या 36 करोड़ पर पहुंच जाएगी.

ग्रामीण त्याग रहे सिलेंडर

दरअसल इस कदम के पीछे एक वजह यह भी है लगातार बढ़ रहे सिलेंडरों की कीमतों से ग्रामीण वर्ग काफी परेशान था। और गांव के लोगों ने सिलेंडर को त्याग कर लकड़ियों का सहारा लेना शुरू कर दिया था.

इसी वजह से ऐसा माना जा रहा है कि सरकार दोबारा पुराने नियम ला रही है. ताकि वो फिर से ग्रामीणों को एलपीजी से जोड़ सके. और परंपरागत विकल्प लकड़ी और कंडे का उपयोग कम हो जाए.

गैस खपत में आई कमी

जून-जुलाई के गैस खपत के आंकड़ों पर अगर नज़र डालें तो प्रति व्यक्ति गैस खपत में एलपीजी कनेक्शन में वृद्धि दर में कमी आई है. जिससे सरकार चिंतित थी.

बता दें कि सरकार साल में 12 सिलेंडर सब्सिडी के दर पर उपलब्ध कराती है. सब्सिडी की रकम ग्राहक के बैंक खाते में सीधे ट्रांसफर होती है. दिल्ली में पिछले माह तक एलपीजी सिलेंडर की कीमत 900 रुपये से अधिक थी.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.