Loading...

ट्रैन 18 ने अपने ट्रायल रन में पीछे छोड़ा शताब्दी-राजधानी को, बन गई सबसे तेज़ चलने वाली रेलगाड़ी

0 50

भारतीय रेलवे के लिए रविवार का दिन बहुत खास पल लेकर आया जब ट्रेन 18 का ट्रायल रन हुआ। ट्रेन 18 ने ट्रायल रन के दौरान 180 किलोमीटर प्रति घंटा के ऊपर ऊपर की रफ्तार हासिल की। जी हां यह सच है, और इसी के साथ इस ट्रेन में ने भारत की सबसे तेज चलने वाली ट्रेनों को भी पीछे छोड़ दिया। ट्रेन 18 ने राजधानी और शताब्दी जैसी ट्रेनों को भी रफ्तार के मामले में पछाड़ दिया।

बता दें कि शताब्दी और राजधानी की औसत रफ्तार 130 किलोमीटर प्रति घंटा है और वही गतिमान एक्सप्रेस की औसत रफ्तार 160 किलोमीटर प्रति घंटा है, तो जाहिर सी बात है की ट्रेन 18 ने इन सभी तेज चलने वाली ट्रेनों को रफ्तार के मामले में पीछे छोड़ दिया।

शताब्दी को करेगी रिप्लेस

जानकारी के लिए बता दें ट्रेन 18 जो कि एक इंजन लैस ट्रेन है वो शताब्दी को रिप्लेस करने के लिए बनाई गई है। बता दें कि ट्रेन 18 को बनाने में 100 करोड़ रुपए का खर्च आया है। ट्रेन ने कोटा-सवाई माधोपुर सेक्शन में 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार हासिल की। वैसे ट्रेन का ज्यादातर ट्रायल रन पूरा हो चुका है। ट्रेन को बनाने वाली इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (ICF) के जनरल मैनेजर एस मुनी ने कहा कि ट्रेन की टेक्नीकल दिक्कतें दूर कर ली गई हैं।

Loading...

कब से चलेगी ये ट्रैन

जनवरी 2019 से यह ट्रेन पटरी पर रफ्तार भरती हुई नजर आएगी और यह ट्रेन जैसा कि पहले कहा कहा शताब्दी की जगह लेगी। इस ट्रेन की उच्चतम स्पीड 200 किलोमीटर प्रति घंटा है और यह ट्रेन भारत की अब तक की सबसे तेज रफ्तार से चलने वाली ट्रेन है।

कोच हैं आधुनिक फीचर्स से लैस

ट्रेन 18 मैं यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए काफी अच्छे फीचर्स दिए गए हैं खासतौर पर इसके कोच में लगी हुई सीटें। जी हां, इसके कोच में स्पेन से मंगाई विशेष सीट भी लगाई गई है, जिन्हें आवश्यकता पड़ने पर 360 डिग्री तक मूव किया जा सकता है।

प्लेन की तरह क्रू से कर सकेंगे बातचीत

ट्रेन में ऑटोमेटिक डोर होंगे। ट्रेन में वाई-फाई एडं इंफोटेनमेंट, जीपीएस बेस्ड पैसेंजर इंफार्मेशन सिस्टम, बॉयो वैक्यूम सिस्टम के साथ मॉड्यूलर टॉयलेट होगा। पैसेंजर के लिए एक टॉक प्वाइंट होगा। जिसके जरिए क्रू से आपात स्थिति में बातचीत की जा सकेगी।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.