Loading...

इस शहर में महामारी की तरह फैलता जा रहा है HIV/AIDS, ऐसी है हालत की खतरे में है पीड़ित लोग

0 24

आज विश्व एड्स दिवस है। यह एक बहुत ही खतरनाक बीमारी है और इससे पीड़ित लोग अक्सर जीवन में बहुत कुछ खो देते हैं।

वैसे तो इस बीमारी को लेकर अक्सर जागरूकता अभियान चलाए जाते हैं कुछ जगह इन अभियानों से फायदा भी देखने को मिला है जबकि कुछ जगह ऐसी भी है जहां पर यह बीमारी एक महामारी के तौर पर फैल चुकी है ऐसी जगहों पर एक बहुत बड़ी समस्या के रूप में उपस्थित है।

आज हम आपको मैक्सिको की एक ऐसे शहर के बारे में बता रहे हैं जहां बड़ी संख्या में एड्स के मरीज हैं।

Loading...

दरअसल कुछ वक्त पहले मैक्सिको के ‘तिजुआना’ शहर की कुछ फोटोज जारी की गई थीं, जो यहां मौजूद एचआईवी संक्रमित मरीजों की भयावह हालत को दिखा रही थीं।

फोटोग्राफर मैकोम लिंटन और पत्रकार जॉन कोहेन ने काफी वक्त तक तिजुआना में रहकर यहां एचआईवी से पीड़ित और प्रभावित लोगों के फोटोज कैद किए थे।

अमेरिका से तिजुआना भेजे जाते हैं लोग

ये फोटोज ‘Tomorrow Is a Long Time’ नाम की किताब में पब्लिश की गई हैं। दरअसल रिपोर्ट्स की अगर माने तो ऐसा कहा जाता है कि अमेरिका से उन लोगों को इस मैक्सिको की जगह भेज दिया जाता है जिनके कागज वगैरह में जो कि उनको अमेरिका की सिटीजनशिप की पहचान दिलाते हैं उसमें प्रॉब्लम होती है तो इसी वजह से उनको अमेरिका से डिपोर्ट कर दिया जाता है यहां पर।

जरूरी नहीं है कि ऐसे लोगों को भेजा जाए जिनका संबंध मैक्सिको के इस जगह से रहा हो दरअसल अमेरिका से उन लोगों को इधर भेज दिया जाता है जिनके पास खुद के रहने का घर नहीं होता और कमाने का कोई भी साधन नहीं होता और जो खराब स्थितियों में रह रहे होते हैं।

उनको इस जगह भेज दिया जाता है फिर वह यहां आकर ड्रग एडिक्ट बन जाते हैं या फिर सेक्स वर्कर के तौर पर अपनी जीविका आरंभ करते हैं और इसी वजह से वह भी इस जगह फैली हुई इस बीमारी से पीड़ित बन जाते है।

तीन गुना अधिक हैं एचआईवी पीड़ित

पूरे मैक्सिको के एचआईवी पीड़ितों की औसत संख्या के मुकाबले तिजुआना में एचआईवी पीड़ितों की संख्या तीन गुनी है।

कुछ सर्वे के मुताबिक, कुल एचआईवी पीड़ितों में सिर्फ 11 प्रतिशत लोग ही एचआईवी के इलाज का खर्च उठा पाने में भी सक्षम हैं। कई रिपोर्ट्स में तिजुआना में एचआईवी को महामारी जैसा बताया गया है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.