Loading...

MS धोनी की वजह से बच गई प्रिया प्रकाश की पहली फिल्म ‛उरु उदार लव’, सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत

0 18

प्रिया प्रकाश की पहली फिल्म ‛उरु उदार लव’ को सुप्रीम कोर्ट ने हरी झंडी दे दी है. दरअसल इस फिल्म के एक गाने को लेकर विवाद हो रखा था और फिल्म की रिलीज पर सवाल उठे हुए थे. सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म पद्मावत और क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी के खिलाफ FIR के पुराने मामले को आधार मानकर इस फिल्म के गाने पर उठे सवालों को बेबुनियाद बताते हुए फिल्म को रिलीज करने के आदेश दे दिए है.

सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार को फटकार लगाते हुए कहा कि किसी ने फिल्म में काम किया और आप FIR रजिस्टर्ड कर देते हो.याचिकाकर्ता ने कहा था कि इस फिल्म का एक गाना केरल में 1978 से गाया जा रहा है तो इसके खिलाफ FIR दर्ज की जा सकती है.हालाँकि फिल्म अभी रिलीज नहीं हुई है जबकि यह गाना YouTube पर फिल्म के प्रमोशन के लिए डाला गया.

दरअसल फिल्म का निर्देशन करने वाले ओमर ललु और पिया प्रकाश पर शिकायतकर्ता मोहम्मद खान ने आरोप लगाया था कि इस फिल्म के एक गाने से एक समुदाय विशेष के लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचती है. शिकायतकर्ता ने कहा कि उन्हें गाने से समस्या नहीं है पर जिस तरह इस गाने को फिल्माया गया है उससे उन्हें ठेस पहुंचती है, इस कारण इन दोनों पर महाराष्ट्र और हैदराबाद में FIR दर्ज की गई थी.

Loading...

शिकायतकर्ता ने फिल्म पर आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया कि इस गाने के बोल ‘माणिक्य मलराय पूवी’ को केरल का मुस्लिम समुदाय पिछले 40 सालों से गाता रहा है. अब इस गाने को ऐसे आपत्तिजनक फिल्माकर पैगंबर साहब और उनकी पत्नी की बेज्जती की जा रही है.

फिल्म के निर्देशक ओमर लोलु ने बताया कि इस गाने में जिस तरह के आरोप लगाए हैं वैसा कुछ नहीं है. ओमर ने कहा की मीडिया की रिपोर्ट से में पता चला कि इस गाने पर कुछ लोगों ने मुकदमे दर्ज करवाए हैं. लोलु कहते हैं कि 1973 के बाद से यह गाना मालाबार एरिया की शादी समारोह में आम रूप से गाया जाता है. इसमें पैगंबर मोहम्मद साहब के बारे में कुछ भी गलत नहीं है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.