Loading...

SBI के नए EMV चिप कार्ड से आपका अकाउंट रहेगा एकदम सुरक्षित, बैंक मुफ्त दे रहा है ये कार्ड

0 13

आजकल देखा जाए तो पैसों के लेनदेन को लेकर होने वाली फ्रॉड की घटनाएं काफी तेजी के साथ बढ़ती जा रही हैं. ऐसी घटनाएं केवल ऑनलाइन ही नहीं होती बल्कि ATM सेंटर में भी होती हैं. इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों के अकाउंट को और भी ज्यादा सुरक्षित रखने के लिए चिप वाला ATM कार्ड जारी कर दिया है. इस चिप कार्ड को लेकर बैंक की तरफ से दी गई जानकारी में बताया गया कि वह EMV चिप वाला डेबिट कार्ड जारी कर रहा है. यह नया कार्ड पुराने मैजिस्ट्रिप (मैग्नेटिक) ATM कार्ड के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित हैं. तो चलिए अब आपको बताते हैं इस कार्ड के बारे में.

भारतीय स्टेट बैंक ने सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर बताया कि ईएमवी चिप कार्ड के लिए आवेदन करके आप धोखाधड़ी गतिविधियों से अपने आपको एकदम सुरक्षित रख सकतें हैं. यह कार्ड आपके लिए सबसे बेहतर है.

एसबीआई ग्राहकों को मेगास्ट्रिप कार्ड को ईएमवी कार्ड में बदलवाने के लिए SBI की होम ब्रांच में जाना होगा. एसबीआई ग्राहक चाहे तो इंटरनेट बैंकिंग के जरिए भी इस कार्ड को बदलने के लिए आवेदन कर सकते हैं. अगर आप भी एसबीआई की इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग करते हैं तो आप बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट पर लॉगिन करके ई-सर्विसेज टैब पर एटीएम कार्ड सर्विस पर क्लिक करें. इसके बाद आपको दिशानिर्देश के हिसाब से आगे की पूरी प्रक्रिया को पूरा करना है.

Loading...

मैग्नेटिक स्ट्राइप कार्ड को लेकर रिजर्व बैंक ने कहा कि अब यह टेक्नोलॉजी पूरी तरह से पुरानी हो चुकी है. और ऐसे कार्ड अब बनना भी बिलकुल बंद हो चुके हैं, क्योंकि ऐसे कार्ड बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं होते हैं, इसी वजह से इन कार्ड को बंद कर दिया गया है. अब इन कार्ड की जगह नए EMV चिप कार्ड उपयोग में लाए जाएंगे. सभी पुराने कार्ड को अब नए ईएमवी चिप कार्ड से बदल दिया जाएगा.

दरअसल आपको बता दें कि ईएमवी चिप वाले डेबिट या क्रेडिट कार्ड पर एक छोटी सी चिप लगी होती है, जिसमें आपके खाते की पूरी जानकारी मौजूद होती है. ये जानकारी इनक्रिप्टेड होती है, ताकि कोई भी इसके डाटा को चोरी ना कर पाए. ईएमवी चिप कार्ड से ट्रांजैक्शन करने के दौरान ग्राहक को सत्यापित करने के लिए एक यूनिक ट्रांजैक्शन कोड जनरेट होता है, जो कि वेरिफिकेशन को सपोर्ट करता है. लेकिन वही पुराने मैग्नेटिक स्ट्राइक कार्ड में ऐसी कोई भी सुविधा नही होती है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.