Loading...

झाड़ियों में से आ रही थी आवाजें, जाकर देखा तो नजर आया होश उड़ा देने वाला नजारा

0 19

‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ यह नारा शायद किताबों और तख्तियों पर लिखने के लिए ही बनाया गया है। क्योंई बेटियों की इस देश मे कोई जरूरत नहीं है। आए दिन ऐसी घटनाएं देखने सुनने को मिलती है, जिन्हें सोचने मात्र से रूह कांप उठती है। आज भी इस देश मे कई जगहों पर बेटी को जन्म से पहले या जन्म के तुरत बाद मार दिया जाता है।

ऐसा ही एक चौंकाने वाला मामला झारखंड के रांची से सामने आया है। जानकारी के मुताबिक एक नवजात बच्ची को उसके पेरेंट्स झाड़ियों में लावारिस छोड़ कर चले गए। लेकिन इस नन्ही जान को समय रहते लोगों ने हॉस्पिटल पहुंचाया। अभी बागी इस नवजात बालिका की हालत गम्भीर है।

रोने की आवाज सुनकर झाड़ियों में पहुंचे लोग, फिर…

यह मामला नामकुम थाना क्षेत्र का है। यहां गुरुवार को झाड़ियों से बच्चे के रोने की आवाजें आने पर ग्रामीणों ने झाड़ियों में खोज की तो वहां एक नवजात बच्ची पड़ी रो रही थी। बच्ची के पूरे शरीर पर चींटियां लगी हुई थी। लोगों ने तुरंत इस नवजात को पास के हॉस्पिटल पहुंचाया। प्राथमिक उपचार के बाद बच्ची की रेफर कर दिया गया।

Loading...

बच्ची के पूरे शरीर को काट रही थी चीटियां

स्थानीय लोगों के मुताबिक बच्ची के पूरे शरीर को चींटियों ने जगह जगह से काट दिया था। अगर थोड़ी देर तक लोगों का ध्यान बच्ची की तरफ नहीं जाता तो शायद यह जिंदा नहीं बच पाती। स्थानीय लोगों ने गुनहगारों को सजा देने की भी गुहार लगाई।

मामले की जांच के बाद दोषियों के खिलाफ होगा एक्शन

इस पूरी घटना पर बाल संरक्षण आयो अध्यक्ष आरती कुजूर का कहना है कि पुलिस इस पूरी घटना की जांच के लिए वारदात के आसपास के सारे सीसीटीवी खंगाल रही है। आरोपितों का पता चलने के बाद ही आगे की कार्यवाही की जाएगी।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.