Loading...

रात को 2:30 बजे एक आवाज सुन महिला की खुल गई नींद, सामने थी मौत, चिल्लाना चाहा पर नही निकली आवाज

0 22

बिहार के मुंगेर जिले कि निवासी पुतुल देवी की जान डेढ़ घंटे तक मौत के मुंह मे अटकी रही। 5 फीट लंबे नाग ने पुतुल देवी के पैरों को अपने शरीर से कसके जकड़ लिया था और फन फैलाकर सामने खड़ा था। मौत पुतुल देवी के पैरों को जकड़े हुए उसके सामने फन ताने हुए बैठी थी। इस समय पुतुल देवी भगवान को याद कर रही थी।

सांप की फुंकार से टूट गई नींद

मच्छरदानी लगाकर पुतुल देवी जमीन पर सो रही थी। पुतुल देवी के दो बेटे छत पर तथा उनके पति मनोज बरामदे में नींद ले रहे थे। रात को नींद में पुतुल देवी का पैर मच्छरदानी से बाहर निकल गया। रात के तकरीबन 2:30 बजे पुतुल देवी को कुछ फुंकार सी सुनाई दी तो उनकी नींद टूट गई और जब उनकी आंखें खुली तो मौत के रूप में उनके सामने एक नाग फन फैलाए हुए बैठा था। पूतुलदेवी मौत को सामने देखकर घबरा गई वह जोर से चीखना चाह रही थी लेकिन मौत को इतने करीब होने पर उनके मुंह से आवाज भी नहीं निकल रही थी।

भगवान से जान बचाने के लिए कर रही थी विनती

Loading...

पुतुल देवी के पैरों पर सांप फन फैलाए हुए बैठा था और पुतुल देवी भगवान से अपनी जान बचाने की विनती कर रही थी। पुतुल देवी सांप के इतने करीब होने के कारण चाहकर भी नहीं चीख पा रही थी, लेकिन उनकी कराहाने की आवाज कमरे से बाहर भी जा रही थी। छत के ऊपर सो रहे बेटों ने जब यह आवाज सुनी तो इसके बारे में जाकर पिता और गांव वालों को बताया। थोड़ी ही देर में गांव वाले इकट्ठा हो गए और पुतुल देवी को करीब डेढ़ घंटे के बाद सांप छोड़कर चला गया।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.