Loading...

ड्राइविंग लाइसेंस बनाने का तरीका हुआ अलग, जानिए अब कैसे बनेगा नया लाइसेंस…..

0 22

आजकल ऐसा कोई भी सरकारी काम नहीं जिसके लिए सिफारिश ना करनी पड़े। कागजात का पूरा काम सही होने पर भी बिना सिफारिश कोई काम नहीं होता। लेकिन अब एक ऐसा काम जरूर है जिसमे किसी की भी सिफारिश नहीं चलेगी।

दरअसल जल्द ही ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के नियमों में कुछ बदलाव होंगे। आने वाले 31 अक्टूबर तक परमानेंट लाइसेंस बनवाने के लिए टेस्ट ड्राइविंग का तरीका पूरी तरह बदल जाएगा। अब लाइसेंस बनवाने के लिए मैन्युअल टेस्ट की बजाय कम्प्यूटर पर ऑटोमेटेड ड्राइविंग टेस्ट पूरा करना अनिवार्य होगा।

नया नियम आने के बाद से कॉमौतेर ड्राइविंग टेस्ट पास करना अनिवार्य हो जाएगा जिसकी वीडियो रिकॉर्डिंग भी की जाएगी। अब कार के अंदर कैमरा लगाया जाएगा जिससे वास्तविक आदमी का पता चल सके जिसे लाइसेंस बनवाना है। क्योंकि अब तक लाइसेंस किसी ओर के नाम बनता था और ड्राइविंग टेस्ट कोई ओर पास करता था। टेस्ट में फेल होने वाले को इसकी वीडियो रिकॉर्डिंग भी मिलेगी ताकि वहापनी गलती या कमी को सुधार सके।

इस टेस्ट को सिर्फ अनुभवी लोगों को पास कर पाएंगे। इस वजह से सड़क पर होने वाले एक्सीडेंट भी काफी हद तक काम हो जाएंगे।

Loading...

आपको बता दें, ड्राइविंग लाइसेंस ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट की 12 अथॉरिटी में बनवाया जा सकता है। परिवन विभाग ने लाइसेंस के लिए मैनुअल ड्राइविंग की जगह ऑटिमटेड ड्राइविंग टेस्ट करवाने का फैसला लिया है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.