Loading...

ब्यूटीफुल ‘साली’ के चक्कर मे पड़ा ‘जीजा’, लड़की के सनकी प्रेमी ने कर दिया यह कांड….

0 32

जबलपुर के विजयनगर से एक चौंकाने वाली ख़बर सामने आई है। दरअसल यहां प्रॉपर्टी ब्रोकर उमाशंकर शर्मा की हत्या कर दी गई। हत्या की पूरी वारदात और कारण जानकर आप भी चौक जाएंगे।

पुलिस ने लखनऊ के दुबग्गा से हत्या में शामिल अंकित यादव को गिरफ्तार कर लिया गया है, जहां से उसे कोर्ट ले जाया गया और उसके बाद 20 अगस्त तक रिमांड पर रखा गया है। वही आरोपी अंकित यादव का साथी गोलू उर्फ रुद्रप्रताप अभी तक फरार है। गोलू शादीशुदा है उसके 3 बच्चे भी है। हत्या में काम ली गई पिस्तौल के बारे में पुलिस अंकित से कड़ी पूछताछ कर रही है।

वही उमाशंकर की साली ज्योति को भी पुलिस ने रिमांड पर लिया हुआ है। इस दौरान ज्योति ने चौंकाने वाले खुलासे किए। ज्योति का कहना है कि मेरे जीजा मेरे साथ पिछले 10 साल से दुष्कर्म करते थे। इसलिए मेरी जिंदगी नर्क बनी हुई थी। मैंने अपनी जीजा की शिकायत उखरी पुलिस चौकी में की थी, लेकिन वहां से कोई कार्यवाही नहीं हुई। फिलहाल पुलिस ने ज्योति को 19 अगस्त तक रिमांड पर ले रखा है और पूछताछ जारी है।

यह है पूरा मामला

Loading...

मृतक उमाशंकर शर्मा विजय नगर में जो ही स्कूल के पीछे रहते हैं और एक कीटनाशक कंपनी में एरिया मैनेजर के पद के साथ-साथ प्रॉपर्टी डीलिंग का भी काम करते थे। उमाशंकर अपने घर में अपनी पत्नी सुमन, बेटे सौरभ, कान्हा, बेटी सौम्या और अपनी साली ज्योति के साथ रहते थे। इसी बीच उमाशंकर और ज्योति के बीच में नजदीकियां बढ़ने लगी और इन दोनों में शारीरिक संबंध हो गए। लेकिन इस बात की खबर लखनऊ में रहने वाले ज्योति के सनकी बॉयफ्रेंड अंकित को लगी तो वह अपना आपा खो बैठा और ज्योति के साथ मिलकर उसने उमाशंकर शर्मा की हत्या का प्लान बनाया।

उमाशंकर शर्मा की हत्या करने के लिए ज्योति के बॉयफ्रेंड ने लखनऊ से अपने दोस्त गोलू को भेजा जो कि एक शूटर था। वारदात के दिन 13 अगस्त को गोलू ट्रेन के माध्यम से जबलपुर पहुंचा जिसे खुद ज्योति रिसीव करने आई और उसे अपना घर भी दिखाया और देर रात उसे अपने घर बुला लिया। मौके का फायदा उठाते हुए शूटर गोलू ने उमाशंकर के मुंह पर तकिया लगाकर उसके सिर पर दो गोली मार दी, जिसके चलते उमाशंकर की मौके पर ही मौत हो गई वारदात को अंजाम देने के बाद गोलू फरार हो गया।

घटना की खबर मिलते ही पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे और ज्योति से पूछताछ करने लगे। ज्योति के दिये गए बयानों पर पुलिस को शक हुआ तो पुलिस ने थोड़ी सख्ती दिखाई और ज्योति ने सारी घटना बयां कर दी।

ज्योति खुद दमोहनाका से शूटर को लायी अपने घर

ज्योति के बॉयफ्रेंड के कहने पर शूटर गोलू ट्रेन से दमोहनाका पहुंचा, जहां से ज्योति ने उसे रिसीव किया और विजय नगर स्थित अपने जीजा के घर ले गयी थी। वारदात में शामिल तीन लोगों में से अंकित और ज्योति को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं तीसरा आरोपी गोलू अभी फरार है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.