Loading...

अगर छोटी-छोटी बातें आपको नही रहती याद तो इन नुस्खों से तेज करें अपनी याददाश्त

0 41

अक्सर हम छोटी छोटी चीज़ों और बातो को भूल जाते है जिसकी वजह से हमे अपनेआप पर गुस्सा आता है, और यह भूलने की आदत आगे जाकर बीमारी का रूप ले लेती हैं। भूलने की बीमारी से छूटकारा पाना अब आसान हो जाएगा। शोध के निष्कर्ष के अनुसार, भविष्य के काम का अभिनय करने या उस काम को ऐसे करे जैसे आप वही काम कर रहे हो तो यह आपके लिये लाभदायक हो सकता हैं।

रिसर्च के बात ये पता चला है कि इस तकनीक में कोई व्यक्ति जिस बात को याद रखना चाहता है, उसे प्रस्तुत करने का नाटक करें, जैसे वह उस काम को वास्तव में कर रहा है। इंग्लैंड के चिचेस्टर विश्वविद्यालय में मनोवैज्ञानिक और मुख्य शोधकर्ता एंटोनियो पेरिएरा के अनुसार, काम आने वाली चीजों को अक्सर भूलना अल्जाइमर के शुरुआती लक्षण हो सकते हैं, अल्जाइमर एक तरह की मानसिक बीमारी हैं। उन्होंने कहा, “शोध में यह खुलासा हुआ कि योजनाओं को याद रखने में इन उपायों से फायदा होता है.”

अगर आप दैनिक आदतों से जुडी बाते भूल जाते है तो अपनाइए ये तरीके

Loading...

हम अक्सर छोटी छोटी बाते भूल जाते है इसका होने का कारण हमारे तनाव, स्ट्रेस और काम का दबाव होती है। इसका सीधा प्रभाव हमारी याददाश्त पर पड़ता है। दैनिक दिनचर्या में काम आने वाली बातों को भूलने की आदत से बचने के लिये अपनी डाइट में इन खाद्य प्रधातो को शामिल कीजिये। यह आपकी याददाश्त बढ़ाने के साथ साथ आपकी सेहत के लिये भी फायदेमंद रहेंगे।

टमाटर : इसमें एंटीऑक्सीडेंट काफी मात्रा में पाया जाता है. जो हमारे रक्त के लिए भी लाभदायक हैं। रोजाना सलाद के रूप में इसे खाने से याददाश्त अच्छी रहती है।

किशमिश : इसमें मौजूद विटामिन-सी दिमाग को तरोताजा रखता है। रोजाना सुबह के समय 15-20 किशमिश भिगोकर खाने से खून की कमी दूर होती है और दिल मजबूत होता है।

कद्दू के बीज: इसमें जिंक तत्व होता है जो मानसिक स्वास्थ्य बेहतर बनाकर याददाश्त मजबूत करता है.

जैतून का तेल : इसे खाना बनाने में प्रयोग कर सकते हैं. इसके अलावा रोटी पर देशी घी के बजाय इसे लगाकर भी खाया जा सकता है. यह दिमाग को ताकत देता है.

फ़ूड वैज्ञानिकों के अनुसार, अधिक नमक, शक्कर, तले-भुने पदार्थ व फास्ट फूड दिमाग पर विपरीत असर डालते हैं. इसके अलावा, कई ऐसे आहार हैं, जिन्हें रोजमर्रा के भोजन में शामिल करने से मस्तिष्क को ओर प्रभावशाली बनाया जा सकता हैं। बल्कि फ्री रेडिकल्स से सुरक्षित भी रखा जा सकता है, इससे याददाश्‍त को और मजबूत बनाया जा सकता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.