Loading...

छोटे बजट से शुरू करें ट्रेवल एजेंट का बिजनेस, हर महीने होगी 30 से 50 हजार की कमाई, जानें कैसे

0 28

अक्टूबर माह से ट्यूरिंग बिजनेस वालों की बल्ले बल्ले शुरू होने वाली है। दरअसल इस महीने से पीक सीजन शुरू हो रहा है। इस समय कोई भी यह बिजनेस शुरू कर सकता है। मौका काफी अच्छा है। आपको बता दें, देश मे ट्यूरिंग एजेंसीज हर वर्ष 7.8% की ग्रोथ कर रही है। एक रिपोर्ट के मुताबिक 2019 तक यह बिजनेस 418.9 बिलियन डॉलर तक हो जाएगा। इसलिए यदि आप भी एक ट्रेवल एजेंट के तौर पर अपना बिजनेस शुरू करना चाहते है तो अभी समय काफी अच्छा है।

महत्वपूर्ण विकल्प

यदि आप ट्रेवेल एजेंट के रूप में बिजनेस करना चाहते है तो पहला विकल्प होता है कि आप किसी बड़ी एजेंसी की फ्रेंचाइजी ले सकते है। इसके अलावा दूसरे विकल्प यह है कि आप खुद अपनी ट्रेवेल एजेंसी खोल सकते है।

इस तरह रजिस्टर करवाएं ट्रेवेल एजेंट बिजनेस

Loading...

यह एक प्रकार का प्राइवेट या फिर प्राइवेट लिमिटेड बिजनेस होता है, जिसके लिए आपको कम्पनी एक्ट के तहत रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी होगा। इसके साथ ही अगर आप कोई यूनिक नाम रखते है तो आप इसे प्रॉपराइटरशिप के जरिए ट्रेडमार्क भी करवा सकते है।

जीएसटी रजिस्ट्रेशन भी है जरूरी

इस बिजनेस में आपके पास जीएसटी नम्बर होना जरूरी है। इसके लिए आप कस्टम वेबसाइट या फिर फाइनेंस मिनिस्ट्री की वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन कर सकते है। यही से आपको इस बिजनेस के लिए जीएसटी नम्बर दिए जाएंगे। ट्रेवल एजेंट एक सर्विस काम है जिसपर सर्विस टैक्स लगता है। फिलहाल इस सर्विस टैक्स को जीएसटी में शामिल कर दिया गया है इसलिए जीएसटी नम्बर लेना अनिवार्य है।

कैसे बनें अप्रूवड ट्रैवल एजेंट

प्राइवेट एजेंट बनने पर सरकार से अप्रूव करवाना जरूरी नहीं है लेकिन अगर आप सरकारी अप्रूव एजेंट बनते है तो इससे आपको और भी कई तरह के फायदे होंगे। सरकारी अप्रूव एजेंट बनने के लिए आपको आईएटीए के तहत रजिस्ट्रेशन करवाना होगा।

आईएटीए ट्रैवल एजेंट की देती है ट्रेनिंग

आईएटीए कम्पनी सभी ट्रेवल एजेंटों को ट्रेनिंग देती है। इसकी मान्यता से आप इंटरनेशनल स्तर के ट्रेवल एजेंट बन जाएंगे। फिर विदेशी ट्यूरिस्ट भी आपसे बुकिंग करवा सकेंगे। ट्रेवल एजेंट बनकर इस आईएटीए कम्पनी का मेम्बर बनने के बाद काफी फायदा होता है।

इन्वेस्टमेंट बस इतना सा

इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपके पास महज 40-60 हजार रुपये होने जरूरी है। शुरुआत में आपको 2 कर्मचारी भी रखने पड़ेंगे। लेकिन अगर पार्ट टाइम ट्रेवल एजेंट के तौर पर काम करना पसंद करते है तो फिर इन्वेस्टमेंट थोड़ा कम हो जाता है।

हर माह इतनी होगी कमाई

एक ट्रैवल एजेंट एयरलाइन टिकट, होटल और रिजॉर्ट बुकिंग, ट्रैवल पैकेज बनाना और रिजर्वेशन कराना, ट्रेन, कार, क्रूज पैकेज आदि काम करवाता है। इसके साथ ही ट्रैवलर को लोकेशन की भी जानकारी देनी पड़ती है। इस बिजनेस की कमाई आपके क्लाइंट पर निर्भर रहती है। इस प्रकार हर माह आसानी से 35 से 50 हजार तक रुपये कमा सकते है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.