Loading...

इंदिरा नूई ने कभी की थी कब्रिस्तान में नौकरी, आज रोजाना कमाती है 55 लाख रुपए

0 17

दुनिया की सबसे ज्यादा मशहूर शीतल पदार्थ बनाने वाली कंपनी पेप्सीको की चेयरपर्सन और सीईओ इंदिरा नूई ने पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन किया है. उन्होंने फोर्ब्स मैगजीन में लगातार अपनी जगह का पक्का किया हुआ है. वही आपको यह भी बता दें कि इंदिरा नूई सालाना 2 अरब से ज्यादा कमाई करने वाली पेप्सीको की पांचवी मुखिया के तौर पर काम कर रही हैं. हालांकि आपको यह भी बता दें कि इंदिरा नूई 3 अक्टूबर 2018 को अपने इस पद को छोड़ देंगी. 12 साल के बाद बतौर सीईओ इंदिरा नूई का कार्यकाल खत्म हो रहा है. इंदिरा नूई साल 2019 की शुरुआत तक कंपनी में बतौर चेयरपर्सन बनी रहेंगी. करीब 12 साल तक पेप्सीको कंपनी में सीईओ रही इंदिरा नूई की सैलरी बड़े-बड़े दिग्गजों के सामने कहीं ज्यादा है. तो चलिए अब आपको बताते हैं एक दिन में कितना कमाती हैं पेप्सिको की सीईओ इंदिरा नूई.

इंदिरा नूई की पर्सनल लाइफ

– पेप्सिको कंपनी की चेयरपर्सन और सीईओ
– विवाहित
– दो बच्चे

वेतन

Loading...

इंदिरा नूई को सालाना वेतन 2.02 अरब रुपए मिलता है, इसके मुताबिक मासिक वेतन 16.90 करोड़ रुपए हुआ और हफ्ते का वेतन 3.62 करोड रुपए, रोजाना की कमाई 55.54 लाख रुपए हुई.

आइए जानते हैं इंदिरा नूई से जुड़ी कुछ रोचक बातें

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इंदिरा नूई का जन्म चेन्नई में 1955 में हुआ था. उनके पिता स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद और दादा जिला जज थे.

इंदिरा नूई को पेप्सिको के इतिहास में पांच चेयरपर्सन के तौर पर नियुक्ति किया गया.

इंदिरा नूई ने साल 2001 में सीएफओ के तौर पर पेप्सिको को ज्वाइन किया. तब से लेकर अब तक उन्होंने पेप्सीको का मुनाफा 2.7 बिलियन डॉलर से बढ़ाकर 6.5 बिलियन डॉलर कर दिया.

इंदिरा नूई ने पेप्सिको को ज्वाइन करने से पहले कई महत्वपूर्ण पदों पर काम किया, जिनमें बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप, आसिया ब्राउन बोबेरी, मोटोरोला, जॉनसन एंड जॉनसन, और मेटूर वर्डसेल शामिल है.

साल 2007 से 2008 में इंदिरा नूई को टाइम मैगजीन में दुनिया के 100 प्रतिभाशाली लोगों की सूची में जगह दी है. उनके द्वारा प्राप्त की गई इस उपलब्धि से देश का नाम पूरी दुनिया में ऊंचा हुआ.

भारत सरकार ने साल 2007 में इंदिरा नूई को पदम विभूषण सम्मान से नवाजा.

इंदिरा नूई अपने गर्ल बैंड में लीड गिटारिस्ट के तौर पर सहयोग देती थी.

आपको बता दें कि इंदिरा नूई और भी ज्यादा पैसे कमाने के लिए कब्रिस्तान में रिसेप्शनिस्ट के तौर पर भी काम करती थी. जहां उन्हें काम करने के बदले 50 सेंट मिलते थे.

चेन्नई में जन्मी इंदिरा नूई ने अपने मैनेजमेंट का कोर्स आईआईएम-कोलकाता से पूरा किया.

इंदिरा नूई को कैरोके गाने का बहुत शौक है. इसी वजह से उन्होंने अपने घर पर एक कैरोके मशीन भी लगाई हुई है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.