Loading...

सरकार उठा सकती है ये ठोस कदम इंस्टाग्राम, व्हाट्सऐप और फेसबुक हो सकते है ब्लॉक, जानें बजह

0 23

देश मे आये दिन कोई न कोई घटनाये हो रही है। देश मे मॉब लिंचिंग की घटनाएं बढ़ रही हैं. मॉब लिंचिंग की ज्यादातर घटनाओं के पीछे सोशल मीडिया पर फैली अफवाहों को कारण बताया जा रहा है जिसकी वजह से देश में शांति भंग हो रही है। कंपनियों से इस संबंध में संपर्क किया जा चुका है. लेकिन, कंपनियों के पास भी फीचर्स में बदलाव के अलावा कोई ठोस उपाय नहीं है. पर इसकी संभावनाएं तलाशी जा रही है. सरकार ने टेलीकॉम ऑपरेटर्स और इंटरनेट सेवा प्रदाता कंपनियों से इस मामले में तकनीकी जानकारी मांगी है. टेलीकॉम विभाग ने सभी पत्र लिखकर पूछा है कि अगर राष्ट्रीय सुरक्षा खतरे में है, तो क्या इन्हें ब्लॉक किया जा सकता है?

ब्लॉक करने की क्यों है जरूरत

देश मे फैलने वाली ज्यादातर अफवाहों की वजह व्हाट्स एप्प और फेसबुक है, जिसके चलते सरकार ने इसे ब्लॉक करने का सोचा हैं। सरकार अफवाहों को रोकने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है और सरकार ने इसे लेकर फेसबुक और व्हाट्स एप्प को नोटिस भी जारी किया था।

Loading...

ब्लॉक करने के लिए राय मांगी

सरकार अभी विचार कर रही है अगर हालात बिगड़ते है तो ब्लॉक किया जा सकता हैं। वैसे 18 जुलाई को दूरसंचार विभाग ने ऑपरेटर्स को पत्र लिखकर आईटी कानून की धारा 69ए के तहत सोशल ऐप्स को ब्लॉक करने पर राय मांगी थी.

ब्लॉक करने का है अधिकार

सरकार के पास यह अधिकार है कि वह किसी भी सोशल नेटवर्क को ब्लॉक कर सके. लेकिन, ऐसा उस स्थिति में हो सकता है जब कोई बड़ी समस्या इस संबंध में आये।

हो सकती है कानूनी कार्रवाई

वहीं, सरकार ने फेसबुक को चेतावनी दी इस आपत्तिजनक कॉमेंट को लेकर और किसी भी घटना का जिम्मेदार उसे ही माना जाएगा. ऐसे में कंपनी को कानूनी कार्रवाई का सामना करने के लिए तैयार रहना होगा।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.