Loading...

CM योगी ने दिए सख्त निर्देश – बिना किसी कारण 3 दिन से ज्यादा फाइल को रोका तो होगी कार्रवाई

0 19

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के हर एक विभाग को निर्देश जारी करते हुए कहा है कि सभी फाइलों का निस्तारण 3 दिन के अंदर हो जाना चाहिए. इसके साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने यह भी कहा कि शासन-प्रशासन के सभी विभाग के अधिकारी हर पत्रावली का निस्तारण 3 दिन में जरूर करें. वहीं उन्होंने यह भी कहा कि अगर बिना किसी कारण के कोई फाइल 3 दिन से ज्यादा रोकी गई तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश से भ्रष्टाचार को बिल्कुल खत्म करने के लिए एक बड़ा फैसला लेते हुए टास्क फोर्स का गठन कर दिया. वही इस टास्क फोर्स का अध्यक्ष मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडे को बनाया गया है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए यूपी की सभी जांच एजेंसियों के प्रमुख को इस टास्क फोर्स में शामिल किया है. इसके साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने टास्क फोर्स को यह भी निर्देश दिए हैं कि अगर भ्रष्टाचार से जुड़ी हुई कोई भी शिकायत मिलती है तो उस शिकायत पर 2 माह के अंदर कार्यवाही सुनिश्चित की जाए.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को गृह विभाग की समीक्षा बैठक की उत्तर प्रदेश में भ्रष्टाचार के ऊपर रोक लगाने के लिए, उन्होंने अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई करने का फैसला लिया है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने भ्रष्टाचारियों से निपटने के लिए टास्क फोर्स का गठन कर दिया है. टास्क फोर्स के गठन हो जाने के बाद अब अपने रसूख का इस्तेमाल कर कानून से बचना आसान नहीं होगा. इसके साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने गृह विभाग की सभी जांच एजेंसियों को कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश भी दिए हैं.

Loading...

सीएम योगी आदित्यनाथ ने सीबीसीआईडी, विजिलेंस, एंटी करप्शन और ईओडब्लू को निर्देश देते हुए कहा कि अगर कोई भी मामला सामने आता है तो उस मामले पर कार्यवाही की समय निर्धारित किया जाना चाहिए. इसके साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 400 से अधिक लंबित मामलों में कार्यवाही करने के लिए 2 महीने की डेडलाइन निर्धारित कर दी है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.