Loading...

9वीं कक्षा की बच्ची ने किया कमाल, बना दी बारिश से बिजली बनाने वाली मशीन

0 19

यह बात तो बिल्कुल सच है कि बच्चों में सीखने की ललक काफी ज्यादा होती है और अक्सर बच्चे अपनी इसी सीखने की ललक के चलते कभी कबार कुछ अविष्कार भी कर देते हैं. बिल्कुल ऐसा ही कुछ नौवीं कक्षा में पढ़ने वाली रेगान जामालोवा ने किया. रेगान ने एक ऐसा डिवाइस बनाया जिसकी मदद से बारिश की बूंदों से बिजली बनाई जा सकती है. जी हां 15 साल की रेगान के द्वारा बनाई गई यह डिवाइस बारिश के पानी से बिजली बना देती है.

योर स्टोरी की खबर के मुताबिक रेगान ने अपने इस आविष्कार को रेनर्जी का नाम दिया है. रेगान का यह भी सोचना है कि अगर हवा से बिजली बन सकती है तो बारिश के पानी से भी बिजली बनाई जा सकती है. इसके बाद ही रेगान ने अपने एक दोस्त के साथ मिलकर, अपने इस Idea के ऊपर काम करना शुरू कर दिया. अपने इस प्रोजेक्ट में रेगान ने अपने टीचर्स की भी काफी मदद ली और इस डिवाइस को बना डाला.

रेगान के इस आविष्कार की खास बात तो यह है कि उसे इस प्रोजेक्ट के लिए अजरबैजान की सरकार ने भी खूब सराहा है और उसे 20 हजार डॉलर की मदद भी दी है. रेगान के द्वारा बनाई गई यह डिवाइस 9 मीटर लंबी है. इस डिवाइस के चार हिस्से हैं रेनवाटर कलेक्टर, वाटर टैंक, इलेक्ट्रिक जनरेटर और बैटरी. टैंक में कलेक्टर की जरिया पानी भरता है जो कि धीरे-धीरे नीचे गिरता है जिससे फिर जनरेटर चलता है और उसके बाद बिजली उत्पन्न हो जाती है.

Loading...

इस तरह से बनी बिजली को बैटरी में सरंक्षित कर लिया जाता है. जिसे फिर घरों में आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है. अभी इस डिवाइस की क्षमता 7 लीटर पानी की है लेकिन फिर भी इससे तीन led बड़ी आसानी से चलाई जा सकती हैं. सबसे अच्छी बात तो यह है कि इस तरीके से बनाई गई बिजली पूरी तरह से नवीकरणीय होती है और ना ही इस तरह से बिजली बनाने से कोई प्रदूषण होता है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.