Loading...

शुरू करें ऑनलाइन कैटरिंग का बिजनेस, सरकार देगी 75% लोन, 10 लाख तक हो सकती है कमाई

0 23

केंद्र की मोदी सरकार टेक्नोलॉजी बेस्ड इनोवेटिव बिजनेस को काफी ज्यादा प्रमोट कर रही हैं और यही सबसे बड़ी वजह है कि केंद्र सरकार के अधीन चलने वाले स्मॉल इंडस्ट्रीज डेवलपमेंट बैंक ऑफ़ इंडिया (SIDBI) ने ऑनलाइन केटरिंग बिजनेस शुरू करने वाले लोगों को 75 फ़ीसदी लोन देने की योजना बना ली है. सिडबी ने इस पूरे बिजनेस का प्रोजेक्ट फाइल भी तैयार कर लिया है. जिसमें बताया गया है कि इस बिजनेस को शुरू करने वाले को अपनी तरफ से 2 लाख रुपए का इन्वेस्टमेंट करना होगा, जबकि सरकार की तरफ से 75 फ़ीसदी यानी कि 6 लाख रुपए का उसे लोन मिल जाएगा और इस बिजनेस को शुरू करने वाले व्यक्ति को 1 साल में करीब 10 लाख रुपए का मुनाफा हो सकता है.

लेकिन क्या आपको पता है कि ऑनलाइन कैटरिंग बिजनेस होता क्या है. दरअसल आपको बता दें कि इस बिज़नेस में आपको कैटरिंग सर्विस प्रोवाइडर के तौर पर ऑनलाइन एग्रीगेटर की भूमिका निभानी होती है. इसके लिए सबसे पहले आपको शहर में मौजूद सभी रेस्टोरेंट, होटल या होम कुक से संपर्क करके उनके साथ समझौता करना होता है. इसके बाद आपको अपनी मोबाइल ऐप या वेबसाइट बनानी होती है, जिस पर आपको कस्टमर अपना ऑर्डर देंगे. आप कस्टमर के आर्डर के आधार पर ही रेस्टोरेंट या होम कुक से मिल तैयार करवाकर अपने डिलीवरी बॉय के माध्यम से उसे कस्टमर के पास भिजवा देंगे.

आपको बता दें कि Standupmitra.in पर अपलोड की गई रिपोर्ट में बताया गया है कि पोर्टल और मोबाइल ऐप को बनाने पर लगभग 1.25 लाख रुपए का खर्चा आ जाएगा. इस सबके अलावा दो कंप्यूटर, चार व्हीकल, नेटवर्क इंस्टॉलेशन और ऑफिस फर्नीचर पर लगभग 2.70 लाख रुपए का खर्चा आएगा, यानी कि आपको फिक्स्ड कैपिटल 3 लाख 95 हजार रुपए की होगी. जबकि आपकी 1 माह की वर्किंग कैपिटल 1.25 लाख रुपए की होगी. यह रिपोर्ट 3 माह के वर्किंग कैपिटल के आधार पर ही तैयार की जाएगी तो आपकी प्रोजेक्ट कॉस्ट 7 लाख 72 हजार रुपए की आएगी.

Loading...

आपको बता दें कि सिडबी छोटे कारोबारियों को प्रमोट करने के लिए कई फाइनेंसियल स्कीम चलाता है. इस बिजनेस के लिए आपको 75 फ़ीसदी तक का लोन मिल जाएगा यानी कि आपको 1 लाख 93 हजार रुपए का इंतजाम खुद करना होगा और बाकी टर्म लोन या बैंक फाइनेंस के रूप में 5 लाख रुपए 79 हजार रुपए आपको मिल जाएंगे.

वहीं बैंक की तरफ से प्रोवाइड की गई रिपोर्ट में इस बिजनेस के पूरे मॉडल को बताया गया है. रिपोर्ट में दी गई जानकारी के अनुसार जब आप अपने इस बिजनेस को शुरू करते हैं तो उस वक्त रेस्टोरेंट या हम कुक से मिल का कमीशन तय कर लेते हैं जो कि 10 फीसदी हो सकता है. यदि ऐसे में आप दिन भर में 250 मिल की डिलीवरी कर देते हैं तो महीने में आपकी कुल सेल 15 लाख रुपए तक हो सकती है इस पर यदि आपको 10 फ़ीसदी कमीशन मिलता है तो आप 1 महीने में कमीशन से ही 1.50 लाख रुपए औए साल भर में 18 लाख रुपए तक की कमाई कर लेंगे.

आप चाहे तो कमीशन के अलावा अपनी वेबसाइट व ऐप पर रेस्टोरेंट सहित ऑनलाइन या ऑफलाइन एडवर्टाइजमेंट भी कर सकते हैं. जिससे आपको लगभग 2 लाख रुपए तक की इनकम हो जाएगी. वहीं रिपोर्ट के मुताबिक आप इस बिजनेस के साथ-साथ रेस्टोरेंट के स्टेटिजिक पार्टनर की बन सकते हैं जिससे आपको लगभग 2.15 लाख रुपए की आमदनी हो जाएगी. वहीं अगर आप कस्टमर से डिलीवरी चार्ज के तौर पर 4.2 लाखों रुपए लेते हैं तो आपकी कुल आमदनी 26 लाख 25 हजार रुपए हो जाएगी और आपका कुल खर्चा 16 लाख 15 हजार होगा यानी कि आपकी 1 साल की बचत करीब 10 लाख रुपए तक हो सकती है.

सिडबी के द्वारा प्रोवाइड की गई प्रोजेक्ट रिपोर्ट को देखने के बाद यदि आप भी इस बिजनेस को करने के बारे में सोच रहे हैं और सिडबी के माध्यम से लोन लेना चाहते हैं तो आप इस लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. https://site.udyamimitra.in/Login/Register#/NoBack

वहीं अगर आप इस बिजनेस से जुड़े ही प्रोजेक्ट रिपोर्ट को देखना चाहते हैं तो इसके लिए आप इस लिंक पर क्लिक करें. https://www.standupmitra.in/Default/…/Online_Catering_Home_Delivery_Service.pdf

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.