Loading...

गर्भवती बकरी से गैंगरेप करने वालों को लेकर जॉन अब्राहम ने कहा – ऐसे लोगों को सूली पर लटका दो

0 20

हरियाणा के मेवात जिले में एक गर्भवती बकरी के साथ गैंगरेप की शर्मनाक घटना को अंजाम दिया गया. इस घटना में उस गर्भवती बकरी की दर्दनाक मौत हो गई. इंसानियत को झकझोर कर रख देने वाली इस पूरी घटना को लेकर बॉलीवुड एक्टर जॉन अब्राहम ने अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कहा कि ‛एक भारतीय होने के नाते मैं तो यही कहना चाहूंगा कि हमारे देश में महिलाएं और जानवर बिल्कुल सुरक्षित नहीं हैं. इस तरह के वाहियात काम को करने वाले लोगों को सबके सामने सूली पर लटका देना चाहिए.’

आपको बता दें कि हरियाणा के मेवात जिले में हवस की आग में अंधे हो चुके 8 दरिंदों ने एक गर्भवती बकरी के साथ अप्राकृतिक यौनाचार किया. वह बकरी गर्भवती थी और इस पूरी घटना के बाद उसने वही तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया. उस बकरी के मालिक ने इस संबंध में मुकदमा भी दर्ज करवा दिया है. वहीं पुलिस ने उस बकरी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. इस पूरे मामले को लेकर पुलिस ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आ जाने के बाद इस पूरे मामले की तस्वीर साफ हो जाएगी और फिर आगे की कार्रवाई की जाएगी. हालांकि पुलिस अभी तक इस पूरे मामले में किसी की भी गिरफ्तारी नहीं कर पाई है.

25 जुलाई की रात को जुए और शराब पीने के आदी हो चुके 8 लड़के उस गर्भवती बकरी को एक सुनसान जगह पर ले गए, जहां पर उन्होंने उस बकरी के साथ अप्राकृतिक दुष्कर्म कर दिया. आठ दरिंदों के द्वारा की गई उस हैवानियत को वह बेजुबान जानवर बर्दाश्त नहीं कर पाई और 26 जुलाई को उस बकरी ने दम तोड़ दिया. वही उस बकरी के मालिक की मानें तो वह बकरी 2 माह की गर्भवती थी. मामले की भनक मिलते ही उन 8 आरोपियों में से तीन की स्थानीय लोगों ने जमकर कुटाई भी की थी.

Loading...

वही आपको बता दें कि जॉन अब्राहम से पहले बॉलीवुड एक्टर फरहान अख्तर ने भी इस शर्मनाक घटना की घोर निंदा की थी. इस पूरी घटना को लेकर फरहान अख्तर ने सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर ट्वीट करते हुए कहा कि ‛इस पुरुष प्रधान समाज में अभी तक महिलाएं और बच्चे ही डर के साए में जिया करते थे, लेकिन अब बकरी और कुत्ते भी ऐसी घटनाओं का शिकार हो रहे हैं. शायद हमारे विकास और शिक्षा में जरूर कोई कमी रह गई है. इस काली और गहरी सुरंग में आखिर उजाला कहाँ हैं.’

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.